DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार ने दिए टैक्स की दरों में बढ़ोत्तरी के संकेत

- वित्त मंत्री बोले-टैक्स की दरों में बदलाव के बिना तेज विकास नहीं - बकाया राजस्व वसूली के लिए विशेष अभियान चलाया जाए - पहली जुलाई से जीएसटी लागू करने के लिए यूपी सरकार तैयार विशेष संवाददाता - राज्य मुख्यालयप्रदेश के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने टैक्स की दरों में बढ़ोत्तरी के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा है कि टैक्स एवं टैक्स से इतर स्त्रोतों में वृद्धि करने के लिए वर्तमान कर की दरों में परिवर्तन करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पहली जुलाई से प्रदेश में वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) को लागू करने के लिए सरकार पूरी तरह तैयार है। इसके प्रभावी होने से व्यापारियों एवं उपभोक्ताओं को काफी राहत मिलेगी। श्री अग्रवाल गुरुवार को लखनऊ में संसाधन समिति की बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा है कि टैक्स व टैक्स से इतर राजस्व स्रोतों में वृद्धि के लिए प्रभावी कदम उठाए जाने चाहिए। राजस्व स्रोतों में वृद्धि से ही प्रदेश के विकास को तेजी से गति दी जा सकती है। श्री अग्रवाल ने कहा कि बकाया वसूली के लिए विशेष अभियान चलाया जाना चाहिए। कर चोरी पर प्रभावी रूप से नियंत्रण लगाए जाने की जरूरत है। वित मंत्री ने कहा कि राजस्व वसूली अभियान के लिए निर्धारित लक्ष्यों को समय से पूरा किया जाए। इसके लिए नियमित रूप सभी विभाग बैंठकें कर समीक्षा करें। बैठक में वाणिज्य कर, आबकारी, परिवहन, स्टांप व निबंधन, भूतत्व व खनिकर्म ,वन व लोक निर्माण विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया और अपने-अपने विभागों द्वारा राजस्व वसूली के लिए किये जा रहे प्रयासों के बारे में विस्तार से अवगत कराया। बैठक में विभिन्न विभागों के अलावा लखनऊ विश्वविद्यालय सहित विभिन्न वित्तीय संस्थाओं के प्रतिनिधियो ने भी भाग लेकर बहुमूल्य सुझाव दिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:tax increase in U.P.possible