DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एनआईओएस 12वीं में छाई शहर की सुचिता

नोट : छात्रा की फोटो उपलब्ध है.....।

- 12वीं की परीक्षा में 90 प्रतिशत अंकों के साथ शहर में रही आगे

लखनऊ।

राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (एनआईओएस) के 12वीं परीक्षा के नतीजों में शहर की बेटी सुचिता सिंह ने बाजी मारी है। 90 प्रतिशत अंकों के साथ शहर में वह आगे रही। एनआईओएस के नतीजे बुधवार को जारी किए गए थे। एनआईओएस की 12वीं परीक्षा अप्रैल में हुई थी। जिसमें, राजधानी के 1000 से ज्यादा छात्र-छात्राएं शामिल हुए। स्टडी हॉल सेंटर फॉर लर्निंग की सुचिता सिंह 90 प्रतिशत अंकों के साथ आगे रही हैं। जबकि आयुष चंद्रा ने 89 प्रतिशत अंक हासिल किए। सोनाली करमचंदानी  ने 87 प्रतिशत अंक मिले हैं।

(बॉक्स)

फाइन आर्ट्स के लिए थोड़ दी सीबीएसई

राजधानी में अव्वल रही सुचिता सिंह का पैशन फाइन आर्ट्स है। वह बचपन से ही पेंटिंग और आर्ट की ओर रुझान था। वह कहती हैं कि सीबीएसई में फाइन आर्ट्स विषय के रूप में उपलब्ध नहीं है। इसलिए दसवीं में ही एनआईओएस का रास्ता चुना। एनआईओएस में 12वीं में पेंटिंग विषय के रूप में उपलब्ध है। सुचिता को फाइन आर्ट्स में करियर बनाना है। इसलिए उनका अगला लक्ष्य बीएचयू या फिर मुम्बई का जेजे इंस्टीट्यूट ऑफ फाइन आर्ट्स है। फिलहाल, एक साल सुचिता ने अपना पोर्टफोलियो और मजबूत करने का फैसला लिया है। सुचिता अपने इस सफलता का श्रेय अपनी छोटी बहन अपरिमिता को देती हैं। मां डॉ. हितौषी सिंह एसोसिएट प्रोफेसर हैं और पिता मनोज कुमार सिंह जन शिक्षण संस्थान हरदोई में निदेशक हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:NIOS marks the city's 12th