DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस निकला बिजली चोर, वकीलों ने किया घेराव

- लेसा व विजिलेंस टीम ने त्रिवेणीनगर में चलाया बिजली चोरी के खिलाफ अभियान

- आम उपभोक्ताओं ने मीटर रीडर न आने व थ्री-फेस लाइन न होने की शिकायत की

लखनऊ। कार्यालय संवाददाता

भाई साहब! मैं पुलिस महकमें हूं। बिजली चोरी अब नहीं करुंगा। चलिये, यहीं खत्म करिये। खत्म क्या करना है। आप पर बिजली चोरी का जुर्माना लगेगा। अरे! जुर्माना किस बात का। शराफत से बिजली जोड़ दीजिये। वरना अच्छा नहीं होगा।

अंकल जी! पापा कोर्ट में वकील है। जब तक वह नहीं आयेंगे, घर का दरवाजा नहीं खोलूंगा। इसी बीच हो-हल्ला करते हुये वकीलों की फौज आती है और बिजलीकर्मियों से भिंड़ जाते हैं। हालांकि विजिलेंस व लेसा टीम के आगे उनकी एक न चली। इसके बाद चेकिंग टीम जबरन घर के अंदर घुस जाती है। और मीटर से पहले केबल काटकर बिजली चोरी पकड़ी गई।

जी हां! बिजली चोरी पर अंकुश लगाने के लिये लेसा ने गुरुवार को त्रिवेणीनगर में अभियान चलाया। मुख्य अभियंता आशुतोष कुमार के नेतृत्व में टीम तुलसीपुरम में छापा मारा। इस दौरान किसी ने पुलिस की धौंस दिखाई, तो किसी ने वकीलों को इक्ट्ठा कर चेकिंग टीम को घेर लिया। हंगामा बवाल बढ़ने पर आसपास के लोग भी इक्ट्ठा हो गये। हालांकि, बिजलीकर्मियों ने विजिलेंस टीम के साथ मिलकर जबरन परिसर में जांच-पड़ताल की। इस दौरान मीटर खराब मिला, तो किसी ने डायरेक्ट कटिया लगाकर खुलेआम बिजली चोरी में पकड़ा गया। हालांकि लेसा के अभियान से आम लोगों में काफी खुशी थी। उन्होंने कहा देर से सही बिजली चोरों के खिलाफ शिकंजा तो कसा गया।

----------------------------------------------

बिजली चोरी से रोशन था पुलिस का घर व दुकान

लेसा टीम ब्रह्मनगर निवासी सुमन मिश्रा के यहां छापा मारा। इस दौरान घर व चार दुकानों में कटिया लगाकर बिजली चोरी पकड़ी गई। एसडीओ के निर्देश पर कर्मचारियों ने बिजली के खंभे से कनेक्शन काट दिया। इससे उपभोक्ता भड़क गया। पहले उसने बिजली जोड़ने का दबाव डाला, फिर उसने खुद को पुलिस महकमें का अधिकारी बताया। हालांकि, विजिलेंस टीम ने एक न सुनी और 20 हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया।

बिजली चोरी पकड़ने पर लेसाकर्मियों से भिड़े वकील

लेसा टीम शाम चार बजे त्रिवेणीनगर निवासी एक वकील के यहां पहुंचे। घर में मौजूद महिला ने मीटर दिखाने से मना किया। कुछ देर बाद वकील अपने साथियों संग पहुंचा और लेसा कर्मचारियों से भिंड़ गया। इस दौरान वकीलों की लेसा अभियंताओं से तीखी नोकझोंक हुई। अधिशासी अभियंता एके वर्मा ने बताया कि परिसर पर मालती शुक्ला के नाम से तीन किलोवाट लोड घरेलू कनेक्शन है। उपभोक्ता से 12 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया।

लेसा व विजिलेंस टीम में दिखी तालमेल की कमी

बिजली चेकिंग के दौरान लेसा और विजिलेंस टीम में आपसी तालमेल की कमी दिखी। बिजली चोरी पकड़ने जाने के बाद विजिलेंस टीम उपभोक्ता से जुर्माना वसूलकर कनेक्शन जोड़ने की बात कही। वहीं लेसा टीम ने बगैर असिसमेंट बिल जमा किये कनेक्शन जोड़ने से मना किया।

मीटर रीडर न आने की शिकायत की

बिजली चेकिंग के दौरान उपभोक्ताओं ने लेसा अधिकारियों से मीटर रीडर न आने व थ्री-फेस लाइन न होने की शिकायत की। स्थानीय निवासी राजेश सचान ने बताया कि थ्री-फेस लाइन न होने से घरों में लो-वोल्टेज की शिकायत की। जिस पर एसडीओ असीम कुमार ने जल्द थ्री-फेस लाइन बनाने का आश्वासन दिया। इस मौके पर विजिलेंस टीम की एएसपी सुनीता सिंह ने बताया कि इस दौरान 385 कनेक्शन की जांच की गई। इसके अलावा 33 मीटर घर से बाहर लगाये गये। सात चोरी पकड़ी गई। 80 हजार रुपये जुर्माना वसूला गया। अधीक्षण अभियंता जयकरन पाल ने बताया कि 22213 यूनिट रीडिंग स्टोर पकड़ी गई।

मंदिर की बिजली से 15 घरों में अवैध कनेक्शन

तुलसीपुरम में एक मंदिर के कनेक्शन से 15 घरों में अवैध बिजली कनेक्शन पाया गया। लेसा टीम जब कनेक्शन काटने लगी तो मंदिर परिसर में मौजूद महिलाएं उग्र हो गई। उन्होंने बिजली कनेक्शन जोड़ने को कहा। मुख्य अभियंता के निर्देश पर मंदिर व परिसर में बने घरों का अलग-अलग कनेक्शन देने का आदेश दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:bijli news