DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीलिंग के विरोध में व्यापारी एलडीए वीसी से मिले

शहर की आबादी के अनुरूप व्यावसायिक भूखण्ड नहीं हैं। ऐसे में लगभग पांच से सात लाख की आबादी इस सीलिंग की प्रक्रिया से प्रभावित होगी। ऐसे में विवादित भवनों व दुकानों पर पुन: समाधान योजना लागू करने की मांग को लेकर लखनऊ विकास प्राधिकरण के वीसी से मिले।

गुरुवार को लखनऊ व्यापार मंडल के पदाधिकारी वरिष्ठ महामंत्री अमरनाथ मिश्र के नेतृत्व में लखनऊ विकास प्राधिकरण के वीसी प्रभुएन सिंह से मिले। व्यापारियों का कहना था कि भाजपा की पिछली सरकार में ऐसे भवनों के लिए नगर विकास मंत्री लालजी टंडन ने समाधान योजना शुरू की थी। अमरनाथ मिश्र ने कहा कि व्यापारी यह कतई नहीं चाहता कि गलत चीज को सही ठहराया जाए। लेकिन मौजूदा सरकार देश व प्रदेश में स्टार्टअप व स्वरोजगार को प्रोत्साहित कर रही है। वहीं स्थापित दुकानदार की दुकान सील करने या ध्वस्त करने पर उसे आर्थिक नुकसान होगा। ऐसे में आवश्यकतानुसार भवन स्वामी से उसमें यथासंभव परिवर्तन कराकर उसे ठीक कराया जाए। संगठन की तरफ से पांच सुझाव भी एलडीए अधिकारी को दिए गए। जिनमें अब व्यावसायिक रजिस्ट्री के साथ एलडीए का नक्शा व एनओसी अनिवार्य किया जाए। नक्शा स्वीकृत जांच करके एनओसी जारी की जाए। प्रत्येक व्यावसायिक भूखण्ड में पार्किंग व शौचालय की व्यवस्था सुनिश्चित हो और आवासीय समिति व स्थानीय व्यापार मंङल के द्वारा भी प्रस्तावित भवनों की जांच कराई जाए। वहीं भूतनाथ व्यापार मंडल के अध्यक्ष देवेन्द्र गुप्ता ने मांग कि जिन एलडीए अधिकारियों के क्षेत्र में गलत तरीके से दुकानें बनाई गईं उन्हें भी दंडित किया जाए। इस मौके पर राजेन्द्र अग्रवाल, उमेश पाटिल, अमिताभ श्रीवास्तव, शौकत अली और मनीष वर्मा समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

सीलिंग की कार्रवाई के विरोध में व्यापारियों का प्रदर्शन

आशियाना में एलडीए द्वारा की गई सीलिंग की कार्रवाई के विरोध में अवध व्यापार मण्डल के नेतृत्व में व्यापारियों ने गुरुवार को प्रदर्शन कर विरोध जताया। व्यापारियों का आरोप था कि उनके प्रतिष्ठानों पर गलत तरीके से कार्रवाई की गई है।

गुरुवार सुबह आशियाना के पावर हाउस चौराहे पर अवध व्यापार मण्डल के अध्यक्ष ओपी अहूजा और संरक्षक कौशलेन्द्र द्विवेदी के नेतृत्व में स्थानीय व्यापारियों ने प्रदर्शन किया। व्यापारियों का आरोप था कि एलडीए कालोनी के पराग डेरी पर दुकानों में की गई सीलिंग की कार्रवाई नियम विरुद्ध है। व्यापारी मण्डल के अध्यक्ष ओपी अहूजा का कहना है कि एलडीए ने बिना किसी सूचना दिए ही अचानक कार्रवाई कर दी। इससे व्यापारी डरे और सहमे हैं। क्षेत्र के कई व्यापारियों ने कामर्शियल हेतु आवेदन किया हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Traders meet LDC VC in protest of sealing