DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जमानत में गायत्री की मदद के आरोप में निलम्बित हुए एसओ

पाक्सो एक्ट में जेल में बंद प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति को कोर्ट से मिली जमानत के बाद जमानतदारों के सत्यापन के मामले में नियम विरुद्ध रुचि लेना एसओ मुंशीगंज पर भारी पड़ गया। एसपी ने उन्हें बुधवार को निलम्बित कर दिया।महिला से गैंगरेप व नाबालिग से दुष्कर्म के प्रयास के मामले में जेल में बंद अमेठी के पूर्व विधायक व पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की जमानत की अर्जी अदालत ने मंगलवार को मंजूर कर ली थी। जिसके बाद जेल से रिहा होने के लिए जमानतदारों का सत्यापन होना था। जिसके कागजात कोर्ट द्वारा निर्धारित प्रक्रिया के तहत सम्बंधित थाने पर सत्यापन के लिए भेजे जाते हैं। लेकिन गायत्री के सहयोगियों ने उक्त कागजात को सीधे लाकर एसओ मुंशीगंज आरके सिंह को दे दिया और वह सत्यापन प्रक्रिया में जुट गए। एसपी अनीस अहमद अंसारी ने बताया कि एसओ ने जमानतदारों के सत्यापन के मामले में नियमों के विरुद्ध जाकर कागज स्वीकार कर लिए। इसके अलावा वह अपने कनिष्ठ अधिकारी पर सत्यापन करने के लिए अनाधिकृत दबाव डाल रहे थे। जिसके चलते उन्हें निलम्बित किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:So suspended for allegations of Gayatri help