DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीएम आवास के सामने बर्खास्त सिपाही ने अपनी गर्दन रेती

सीएम आवास के सामने बर्खास्त सिपाही ने अपनी गर्दन रेती

मुख्यमंत्री आवास के सामने शनिवार सुबह बर्खास्त सिपाही कैलाश सिंह उर्फ कलादीन (64) ने धारदार हथियार से अपना गला रेत लिया। वर्तमान में राजनीति का केन्द्र बने इस स्थान पर हुई इस घटना से हड़कम्प मच गया। आनन-फानन उन्हें सिविल अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें ट्रॉमा सेन्टर रिफर कर दिया। उनकी हालत गम्भीर बनी हुई है। पुलिस उनके परिवारीजनों से सम्पर्क करने का प्रयास कर रही थी।

यह घटना उस समय हुई जब मुख्यमंत्री आवास के सामने राजनीति की गहमागहमी को लेकर दर्जनों लोगों का जमावाड़ा था। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक सुबह करीब 11:30 बजे गाजीपुर जिले के सैदपुर रामपुर मांझा निवासी कैलाश सीएम आवास पहुंचे। वह कई दिनों से सीएम से मिलने का प्रयास कर रहा थे पर उनकी मुलाकात नहीं हो पा रही थी। इस बार भी जब वह असफल रहा तो उसने नुकीली चीज निकाली। किसी के कुछ समझने से पहले ही उन्होंने नुकीली वस्तु से अपना गला रेत लिया।

लहूलुहान देख वहां हड़कम्प मचा

कैलाश को खून से लथपथ देख वहां हड़कम्प मच गया। तुरन्त ही वायरलेस पर इस घटना की सूचना गौतमपल्ली थाने को दी गई। एसआई नवेन्द्र शेखर और सिपाही इंद्रजीत मौके पर पहुंचे। ये लोग उसे तुरन्त सिविल अस्पताल लेकर गए जहां प्राथमिक उपचार दिया गया पर खून ज्यादा बह जाने के कारण उसकी हालत गम्भीर हो गई थी। इस कारण डॉक्टरों ने उसे ट्रॉमा सेन्टर भेज दिया।

वर्ष 2001 में बर्खास्त हुआ था

कैलाश मिर्जापुर में आरक्षी थे। उन्हें अनुशासनहीनता के मामले में वर्ष 2001 में बर्खास्त किया गया था। नौकरी से निकलने के बाद उन्होंने फंड के भुगतान के लिए आवेदन किया था पर अभी तक उसका भुगतान नहीं हुआ था। वह विभाग के कई अफसरों से मिल चुके थे लेकिन आश्वासन के सिवाए कुछ नहीं मिल रहा था। कैलाश ने मुख्यमंत्री से भी कई बार मिलने की कोशिश की थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सीएम