DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पशु कल्याण को जनता की इच्छा शक्ति का जागृति होना जरूरी: चन्द्र प्रकाश

- श्री लक्ष्मण गौशाला में पशु कल्याण प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभलखनऊ। हिन्दुस्तान संवाद पशु कल्याण में सुधार लाने के लिए आवश्यक है कि जनता में इच्छा शक्ति जागृत की जाए। क्योंकि जब तक जनता की सोच नहीं बदलेगी पशु कल्याण की स्थिति दयनीय ही बनी रहेगी। यह बात कृषि उत्पादन आयुक्त चंद्रप्रकाश ने गुरुवार को जानकीपुरम सेक्टर एफ स्थित श्री लक्ष्मण गौशाला में आयोजित पशु कल्याण प्रशिक्षण कार्यक्रम में कही। पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में वह बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि ईश्वर ने धरती सभी के लिए बनाई है। सभी को समान अधिकार और जीने का हक है। लेकिन अपने स्वाद और भूख के लिए पशुओं को खा रहे हैं। आखिर हम उन्हें किस अधिकार से खा रहे हैं। कृषि उत्पादन आयुक्त ने कहा कि सभी को जीने का हक है। उन्होंने सभी को शाकाहार के लिए प्रेरित करने की बात कही। पशु पालन निदेशक डॉ सीएस यादव ने कहा कि पशु कल्याण विषय में लोगों का ज्ञान बढ़ाना ही हल नहीं है बल्कि कल्याण संबंधी सुझाव को अभ्यास में भी लाना होगा। डॉ यादव ने बताया कि देश मे पशुओं के कल्याण व सुरक्षा के लिए पशु कल्याण बोर्ड की स्थापना सन 1962 में हुई, जिसका उद्देश्य पशु कल्याण के लिए निर्मित गैर सरकारी संगठनों एवं संस्थाओं को वित्तीय व तकनीकी मदद करने के साथ ही पशुओं पर हो रहे अनैतिक अत्याचारों एवं क्रूरता पर नजर रखना और बनाए गए अधिनियम को सख्ती से पालन करवाना है। इससे पहले कृषि उत्पादन आयुक्त ने गौशाला में गौ की विधि विधान से पूजा की। इसके बाद अन्नपूर्णा भोजनालय का भी निरीक्षण किया। इस मौके पर गौशाला के प्रबन्धक गजेंद्र सिंह, उप प्रबन्धक अजय सिंह, राजेश वार्ष्णेय, जीके त्रिपाठी, टीएन दीक्षित मुख्य रूप से मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: