DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'पीजी' कोर्स की राह होगी आसान

'पीजी' कोर्स की राह होगी आसान

जर्मन एकेडमिक एक्सचेंज सर्विस (डाड) ने जर्मन यूनिवर्सिटी में पीजी कोर्स में इच्छुक विदेशी छात्रों के दाखिले की कवायद शुरू कर दी है, खासकर विकासशील देशों के ऐसे छात्र, जो किसी स्पेशलाइज्ड कोर्स में अध्ययन के लिए जर्मनी जाना चाहते हों। सत्र 2016-17 के ये कोर्स विकास पर आधारित पीजी कोर्स के रूप में हैं तथा सभी जर्मन यूनिवर्सिटी से सम्बद्ध हैं। स्कॉलरशिप विंटर सेमेस्टर (शीत सत्र) के लिए हैं तथा उनकी संख्या सीमित है।

कोर्स की योग्यता व अवधि

इसके लिए वही छात्र योग्य हैं, जिन्होंने किसी मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय अथवा संस्थान से डेवलपमेंट से संबंधित चार वर्षीय बैचलर कोर्स किया हो। इसके अलावा किसी प्राइवेट अथवा सरकारी संस्थान से विकास संबंधी प्रोजेक्ट अथवा प्लानिंग पर काम करने वाले प्रोफेशनल्स भी इसमें आवेदन कर सकते हैं। इसमें छात्र की उम्र अधिकतम 36 वर्ष होनी चाहिए। कोर्स की अवधि 12-24 माह की है। इसमें यह भी ध्यान देने योग्य है कि छात्र की बैचलर डिग्री छह साल से अधिक पुरानी न हो।

अंग्रेजी कोर्स के लिए

यदि छात्र अंग्रेजी से संबंधित कोई कोर्स करना चाहते हैं तो उसके लिए आईईएलटीएस का सर्टिफिकेट अथवा टॉफेल (पेपर बेस्ड में 550, कम्प्यूटर बेस्ड में 213 व इंटरनेट बेस्ड में 80 अंक) अनिवार्य है।

संबंधित पीजी कोर्स

इकोनॉमिक साइंसेज, बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन, पॉलिटिकल इकोनॉमिक्स, डेवलपमेंट को-ऑपरेशन,   एग्रीकल्चर   एंड   फॉरेस्ट   साइंसेज,

रीजनल प्लानिंग, एन्वायर्नमेंटल साइंसेज, पब्लिक

हेल्थ/वेटरिनरी साइंसेज, सोशल साइंसेज, एजुकेशन, लॉ एवं मीडिया स्टडीज आदि।

आवेदन से जुड़ी जानकारी

इसमें आवेदन करने के लिए छात्र को डाड की वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। वहां पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म उपलब्ध है। इसके बाद उसे अपनी योग्यता     से संबंधित प्रमाणपत्र जर्मन एम्बेसी/यूनिवर्सिटी को उपलब्ध कराना होगा। इसमें पर्यावरण की सुरक्षा को देखते हुए आवेदन के समय शीट होल्डर और प्लास्टिक फोल्डर के प्रयोग की मनाही है।

संपर्क करें

यह वेबसाइट विजिट कर सकते हैं-

www.daad.de

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:easy way of ' PG ' course