DA Image
3 अगस्त, 2020|9:14|IST

अगली स्टोरी

स्टेशन परिसर को संवारने के लिए रेलवे ने लिया फैसला

स्टेशन परिसर को संवारने के लिए रेलवे ने लिया फैसला

टाटानगर रेलवे स्टेशन पर भीख मांगकर यात्रियों को परेशान करने वाले किन्नरों और भिखारियों पर जल्द ही रेलवे एक्ट की धारा-144 के तहत आरपीएफ कार्रवाई करने जा रही है। इसमें एक साल तक सजा या फिर दो हजार रुपये तक जुर्माने का प्रावधान है। टाटानगर रेलवे स्टेशन पर बड़ी संख्या में भिखारी, किन्नर और अन्य लोग यात्रियों से पैसे मांगते रहते हैं। इससे यात्रियों को परेशानी होती है और स्टेशन की छवि भी खराब होती है। टाटानगर ए ग्रेड के स्टेशनों में शुमार है। ऐसे में भिखारियों को स्टेशन परिसर से दूर रखने को ही रेलवे समस्या का समाधान मान रहा है।
 
पैसे देने से मना करने पर अभद्रता
टाटानगर रेलवे स्टेशन और यहां से गुजरने वाली ट्रेनों में किन्नरों और भिखारियों द्वारा यात्रियों को परेशान करने और पैसे देने से मना करने पर अभद्रता की कई घटनाएं हो चुकी हैं। एक बार तो किन्नरों ने चलती ट्रेन से एक युवक को फेंक भी दिया था। ऐसी घटनाएं दोबारा न हों, इसके लिए रेलवे ने यह फैसला लिया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:tatanagar railway station soon beggar free