DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साइबर क्राइम के मामले में जामताड़ा कई बड़े शहरों से आगे

साइबर क्राइम के मामले में सबसे पिछड़े जिलों में शामिल झारखंड का जामताड़ा जिला देश के कई महानगरों से आगे है। इसी तरह से गिरिडीह जिले के राजधनवार में भी एटीएम और क्रेडिट कार्ड के जरिए ठगी को बाकायदा सिखाया जाता है। बीते दिन उत्तराखंड में सामने आई एक करोड़ की ठगी की जड़ें भी जामताड़ा में निकलीं। इस बारे में जब बात की, तो पुलिस अफसरों ने माना कि जामताड़ा के लिए यह कोई नई बात नहीं है।

कब-कब जामताड़ा आई पुलिस
18 जुलाई 2015: महाराष्ट्र पुलिस ने जामताड़ा के नारायणपुर से अब्दुल मजीद मियां को पकड़ा था। अब्दुल ने महाराष्ट्र के एक व्यक्ति को 77 हजार रुपए चपत लगाई थी, पुलिस इस मामले में और कई आरोपियों को खोज रही थी।

8 अगस्त 2015 : दिल्ली पुलिस ने करमाटाड़ के सुभाष चौक के पास से सुल्तान मियां और उसके पुत्र ताज अंसारी को पकड़ा था। आरोप था कि ताज ने अपनी बहन की ननद के एड्रेस पर लाखों का सामान मंगवाया था। दिल्ली के एक व्यक्ति का एटीएम पिन पूछकर यह खरीदारी की गई थी। पुलिस ने ताज की निशानदेही पर एक घर से तीन लैपटॉप और एक एलइडी बरामद किया था।

13 अगस्त 2015 : मिहिजाम से ओडिशा पुलिस ने एक आरोपी के दबोचा था। पकड़ा गया आरोपी करमाटांड़ का रहने वाला था। उस पर ओडिशा के एक व्यक्ति के एकाउंट से लाखों रुपए ठगने का आरोप था। गिरफ्तारी के दौरान पुलिस सिविल ड्रेस में थी, इसलिए आरोपी ने पहले अपने अपहरण का हल्ला उड़ाकर भीड़ की मदद लेनी चाही। लेकिन बाद में भेद खुला और ओडिशा पुलिस उसे लेकर अपने साथ चली गई।

24 अगस्त 2015 : झारखंड की गढ़वा पुलिस ने देवलवाड़ी से भूदेव मंडल को पकड़ा था। उसी रात करमाटांड़ में कई जगहों पर साइबर क्रिमनलों की खोज में दबिश दी गई थी लेकिन बाकी आरोपी गिरफ्त में नहीं आए। आरोप था कि भूदेव और सुदामा मंडल ने गढ़वा के एक व्यक्ति के एकाउंट से 33 हजार रुपए उड़ा लिए थे।

विधायक को भी ठगने का हुआ था प्रयास
13 जुलाई 2015 को करमाटांड़ के ठगों ने जामताड़ा विधायक डॉ. इरफान अंसारी को भी ठगने का प्रयास किया था। उनके मोबाइल पर फोन कर ठग ने अपना परिचय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के अधिकारी की तौर पर दिया था। लेकिन ऐन वक्त पर विधायक को अपने शक हुआ और उन्होंने अपना एटीएम नंबर और पिन बताने से मना कर दिया। विधायक ने इसकी शिकायत पुलिस अधिकारियों से की थी। जिसके बाद नंबर की जांच हुई तो पता चला कि जामताड़ा के लोकेशन से विधायक को फोन किया गया था।

एनसीआरबी  के अनुसार साइबर क्राइम में झारखंड में सबसे अधिक वृद्धि
राज्य    2013    2014    वृद्धि का प्रतिशत
झारखंड    26    93    257.7
गुजरात    77    227    194.8
यूपी    682    1737    154.7
असम    154    379    146.17 
महाराष्ट्र    907    1879    107.2

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साइबर क्राइम के मामले में जामताड़ा कई बड़े शहरों से आगे