झारखंडः बासुकीनाथ मंदिर में लगी 47.25 किलो चांदी की पिंडी - झारखंडः बासुकीनाथ मंदिर में लगी 47.25 किलो चांदी की पिंडी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झारखंडः बासुकीनाथ मंदिर में लगी 47.25 किलो चांदी की पिंडी

बासुकीनाथ मंदिर के गर्भ गृह में पीतल की जगह चांदी की पिंडी लगा दी गई है। अर्से से यह चबूतरा पीतल निर्मित था। सिलीगुड़ी के एक भक्त ने 47 किलो 250 ग्राम चांदी से निर्मित पिंडी दान की है। इसकी कुल लागत करीब 23 लाख रुपए है। यह जानकारी जरमुंडी के बीडीओ सह मंदिर प्रभारी संजय कुमार दास ने दी है।

उन्होंने बताया कि पिंडी दान करने वाले भक्त ने अपना पता नाम गुप्त रखने का मंदिर प्रशासन से अनुरोध किया है। मंगलवार को इस चांदी निर्मित पिंडी को गर्भ गृह में जलढरी के पास फिट कर दिया गया। मंदिर प्रभारी ने बताया कि चांदी निर्मित यह पिंडी 4 फीट लंबी और 1.5 फीट चौड़ी है। पीतल की जगह चांदी की पिंडी हो जाने से बाबा के गर्भ गृह की रौनक बढ़ गई है। बासुकीनाथ पंडा धर्मरक्षिणी सभा के अध्यक्ष मनोज पंडा ने बताया कि गर्भगृह में पहली बार चांदी की पिंडी लगी है।

एक साल में बाबा को चढ़ा था साढ़े बारह किलो चांदी
इधर गुरुवार को मंदिर प्रशासन ने विगत करीब एक वर्ष में बाबा पर चढ़ाए गए चांदी के सामानों का वजन कराया। इसके लिए एक निगरानी समिति गठित है जिसकी निगरानी में चढ़ावा का लेखा-जोखा होता है। मंदिर प्रभारी ने बताया कि करीब एक साल में बाबा मंदिर में साढ़े 12 किलो चांदी चढ़ी है। वजन करने के बाद इसे सुरक्षित रखवा दिया गया है। गौरतलब है कि श्रावणी मेला में मंदिर प्रशासन की ओर से सोना और चांदी का 10 ग्राम और 5 ग्राम का सिक्का ढलवा कर उसकी बिक्री की जाती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:झारखंडः बासुकीनाथ मंदिर में लगी 47.25 किलो चांदी की पिंडी