DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रम मंत्री राज पलिवार के खिलाफ परिवाद

थाना क्षेत्र के बड़ा शेखपुरा मोहल्ला अवस्थित मधुपुरी कोठी के केयर-टेकर रहे संतु रवानी की पत्नी लक्खी देवी ने बुधवार को श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण मंत्री राज पलिवार, जिला परिषद अभियंता दीपक यादव, जेइ प्रेम सिंह, तत्कालीन एसडीपीओ बीके चौधरी, विनोद झा, सुदामा पांडेय और संजीव राय समेत 50-60 अज्ञात के खिलाफ अनुमंडलीय न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में धोखाधड़ी पूर्वक कोठी से निकाल कर घर का सामान बाहर फेंक कर क्षतिग्रस्त करने का आरोप लगाते हुए मामला दायर किया है। न्यायालय ने परिवाद संख्या 230/15 पंजीकृत कर सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया है।

वादिनी ने आरोप लगाया है कि वर्ष 1997 से वह अपने परिवार के साथ कोठी में रह रही थी। राज पलिवार ने कोलकाता निवासी सचिन्द्र मोहन से कोठी खरीद ली। वर्षों से केयर-टेकर परिवार होने के नाते कोठी खरीदने वाले से सहायता मांगी। आश्वासन देते हुए राज पलिवार ने कई बार देवघर बुलाया। गत मार्च माह में भी देवघर अवस्थित आवास पर बुलाया। वहां घंटों इंतजार के बाद भी सहायता नहीं मिली। आरोप है कि उसी दिन मधुपुर कोठी में अधिकांश नामजद 50-60 मजदूरों को लेकर निर्माण कार्य प्रारंभ करा दिया। विरोध करने पर पुलिस व मंत्री के समर्थकों ने तरह-तरह की धमकी दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:श्रम मंत्री राज पलिवार के खिलाफ परिवाद