DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हॉर्स ट्रेडिंग केस में सीता सोरेन के पिता गिरफ्तार

राज्यसभा चुनाव 2012 में विधायकों की खरीद-फरोख्त में फंसी झामुमो विधायक सीता सोरेन के पिता और शिबू सोरेन के समधी बोधनारायण मांझी को सीबीआइ ने गिरफ्तार कर लिया है। सोमवार की सुबह आठ बजे भुनवेश्वर (ओड़ीशा) के ओल्ड टाउन स्थित आवास से बोधनारायण की गिरफ्तारी हुई। 2013 में हॉर्स ट्रेडिंग केस की जांच कर रही सीबीआइ टीम ने बोधनारायण मांझी के खिलाफ स्थायी वारंट लिया था। वारंट जारी होने के बाद से ही वह फरार चल रहे थे। गिरफ्तारी के बाद दिन के 12 बजे उन्हें भुवनेश्वर के स्थानीय अदालत में पेश किया गया। पेशी के बाद सीबीआइ की टीम उन्हें लेकर रांची के लिए रवाना हो गई है।

घर में छापेमारी के दौरान मिला था 40 लाख का एफडी : अप्रैल 2012 में सीबीआइ ने राज्यसभा चुनाव में हॉर्स ट्रेडिंग को लेकर एफआइआर दर्ज की थी। इसके बाद बोधनारायण मांझी के भुवनेश्वर स्थित आवास पर भी सीबीआइ ने छापेमारी की थी। यहां से 40 लाख रुपये की एफडी बरामद की गई थी। तब सीबीआइ को उन्होंने बताया था कि ये एफडी उन्होंने अपने रिटायरमेंट के पैसे से की है, लेकिन जांच में ये बातें गलत साबित हुईं।

पूर्व में हो चुकी है चार्जशीट : बोधनारायण मांझी के खिलाफ सीबीआइ पूर्व में चार्जशीट भी फाइल कर चुकी है। सीबीआइ जांच में यह बात सामने आयी थी कि राज्यसभा चुनाव के दौरान निर्दलीय प्रत्याशी आरके अग्रवाल से सीता सोरेन ने डेढ़ क रोड़ रुपये लिए थे। इन्हीं पैसों से 40 लाख रुपये का एफडी कराई गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हॉर्स ट्रेडिंग केस में सीता सोरेन के पिता गिरफ्तार