DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

75 अंक मिलेंगे तो होगा प्रोफेसर का प्रमोशन

कॉलेजों प्रोफेसरों को प्रोमोशन के लिए अब खुद ही अपनी काबिलियत आंकनी होगी। इसके लिए उन्हें सेल्फ अप्रेजल करना होगा। इस आधार पर ही उन्हें प्रमोशन दिया जाएगा। प्रमोशन पाने के लिए एक शिक्षक को कम से कम 75 अंक आने चाहिए। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने एकेडमिक परफॉरमेंस इंडिकेटर्स (एपीआई) के लिए सुझाव भी मांगे थे। सुझाव मिलने के बाद यूजीसी ने नई अधिसूचना जारी की है, जिसके तहत कॉलेजों के शिक्षकों से सेल्फ अप्रेजल रिपोर्ट मांगी गई है।

ये होगा रिपोर्ट में
रिपोर्ट में शिक्षकों को बताना होगा कि कॉलेज में पढ़ाने के अलावा वे किन-किन अन्य गतिविधियों में कितना ध्यान देते हैं। इसमें लेक्चर, सेमिनार, नई तकनीक से पढ़ाई करवाना, प्रश्न पत्र सेट करना, मूल्यांकन आदि शामिल हैं। इसके अलाव कॉलेज के जर्नल के प्रकाशन में भी शिक्षकों को अपनी भूमिका खुद ही स्पष्ट करनी होगी।

हर श्रेणी के लिए अलग अप्रेजल सिस्टम
यूजीसी ने निदेशक, उप निदेशक, सहायक निदेशक, शारीरिक शिक्षा निदेशकों के लिए अलग-अलग परफॉरमेंस आधारित अप्रेजल सिस्टम बनाया है। इसके तहत उन्हें कम से कम 75 अंक आने चाहिए। इसी तरह व्यावसायिक विकास गतिविधियों में शामिल शिक्षकों को कम से कम 15 स्कोर, रिसर्च व शैक्षणिक योगदान के लिए न्यूनतम पब्लिकेशन तय किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:75 अंक मिलेंगे तो होगा प्रोफेसर का प्रमोशन