DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नि:शक्त बच्चों के लिए शिक्षा विभाग चलाएगा हेल्पलाइन

शिक्षा विभाग प्रदेश के नि:शक्त बच्चों के लिए हेल्पलाइन चलाएगा। यह टॉल फ्री नंबर होगा। इस पर फोन कर शारीरिक या मानसिक रूप रूप से कमजोर विद्यार्थी विशेषज्ञों से अपनी समस्याओं का निदान पूछ सकेंगे। शिक्षक अपने विद्यार्थी और अभिभावक अपने संतान की समस्याओं के बारे में भी इस नंबर पर विशेषज्ञों से सलाह ले सकते हैं।

शिक्षा विभाग की ओर से शुरू किया जा रहा यह हेल्पलाइन सप्ताह के छह दिन काम करेगा। इसकी अवधि सामान्यत: सुबह 10 बजे से लेकर शाम छह बजे तक होगी। अलग-अलग पालियों में अलग मामलों के विशेषज्ञ वहां बैठेंगे। इसके तहत स्पीच थेरेपी, ऑर्थोपेडिक्स, आई स्पेशलिस्ट, विकलांगता निदान से जुड़े विशेषज्ञ और मानसिक रूप से कमजोर क्षमता वाले छात्रों को पढ़ाने के विशेषज्ञ छात्रों, शिक्षकों और उनके अभिभावकों को सलाह देंगे। हेल्पालइन पर ऐसे छात्रों को पढ़ने के तरीके, शिक्षकों को पढ़ाने के तरीके और अभिभावकों को पालन-पोषण के गुर बताए जाएंगे।
शिक्षक पढ़ेंगे संवेदनशीलता के पाठ

सीडब्लूएसएन यानी चिल्ड्रेन विथ स्पेशल नीड वाले बच्चों के लिए यह हेल्पलाइन राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत चलाया जा रहा है। इस हेल्पलाइन में विशेष सहायता की जरूरत वाले 8वीं से 10वीं कक्षा वाले छात्रों के लिए डॉक्टरी, मनोवैज्ञानिक और अकादमिक सलाह की व्यवस्था है। साथ ही इसके तहत शिक्षकों को भी शारीरिक और मानसिक दृष्टि से विकलांग बच्चों के लिए संवेदनशीलता का पाठ पढ़ाया जाएगा। ताकि वे अपने छात्रों की जरूरत को समझकर उसका उपाय ढूंढ़ सकें। इस हेल्पलाइन के लिए फोन नंबर जल्द ही जारी कर दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नि:शक्त बच्चों के लिए शिक्षा विभाग चलाएगा हेल्पलाइन