DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गढ़वा में हत्या के तीन दोषियों को उम्र कैद की सजा

जिला जज चतुर्थ यशवंत कुमार शाही की अदालत ने अंजनी कुमार सिंह की हत्या करने वाले तीन अभियुक्तों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। उन्होंने रंका थाना के दौनादाग गांव निवासी परमात्मा दयाल सिंह, महात्मा दयाल सिंह और निशा देवी को सजा सुनाते हुए जेल भेज दिया।

हत्या की घटना 12 अगस्त 2009 की है। प्राथमिकी दर्ज कराते हुए मृतक के पिता आत्मा दयाल सिंह ने आरोप लगाया था कि घटना के दिन उसका पुत्र अंजनी कुमार सिंह सुबह सात बजे सो कर उठा। उसके बाद वह बाहर से घूम कर लौटा और बाहर वाले खुले कमरे में सो गया। तभी उक्त तीनों नामजद आरोपी उनके घर के आसपास संदिग्ध हालत में घूमते देखे गए।

सुबह साढ़े आठ बजे जब उसे जगाने का प्रयास किया गया, तो शरीर में कोई हलचल नहीं देख डॉक्टर के पास ले गए। डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। प्राथमिकी में आरोप लगाया कि चाय में जहर देने के बाद तकिया से मुंह और गला दबा कर उक्त तीनों ने हत्या कर दी। घटना का कारण आपसी रंजिश बताया गया है। कोर्ट ने दोषियों के खिलाफ पांच हजार रुपए के आर्थिक दंड की भी सजा सुनाई। अभियोजन पक्ष से अपर लोक अभियोजक आनंद कुमार चौबे और बचाव पक्ष से मृणाल पांडेय ने पैरवी की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गढ़वा में हत्या के तीन दोषियों को उम्र कैद की सजा