DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जमशेदपुर में सुशील के हत्यारों की तलाश

हजारीबाग कोर्ट में मंगलवार को मारे गए सुशील श्रीवास्तव के हत्यारों की तलाश जमशेदपुर में भी पुलिस कर रही है। सूत्रों के अनुसार इसके लिए हजारीबाग पुलिस ने जमशेदपुर पुलिस से संपर्क किया है।

एक हमलावर को सिपाही की गोली भी लगी है। आशंका व्यक्त की जा रही है कि वह जमशेदपुर में आकर अपना इलाज करा सकता है। मंगलवार को जमशेदपुर पुलिस की एक टीम कदमा के विजया हेरिटेज स्थित किशोर पांडेय के घर पर भी गई थी, लेकिन वहां कोई नहीं था।

जमशेदपुर से है गिरोह का नाता
सुशील के हत्यारोपी विकास तिवारी गिरोह का जमशेदपुर से भी नाता है। किशोर पांडेय ने तीन साल जमशेदपुर में गुजारे थे। किशोर की पत्नी का मायका भी जमशेदपुर के गाढ़ाबासा में ही है। इसके अलावा जब किशोर पांडेय जमशेदपुर में रह रहा था तब उसके घाघीडीह जेल में बंद कई बड़े अपराधियों से भी संपर्क रहने की बात सामने आई थी।

जमशेदपुर का विनोद खत्री भी हजारीबाग जेल में
जिस हजारीबाग जेल में सुशील श्रीवास्तव बंद था, उसी में जमशेदपुर का एक बंदी विनोद खत्री भी है। विनोद खत्री को प्रशासनिक कारणों से घाघीडीह से हजारीबाग जेल भेजा गया था। विनोद खत्री किरण तिलवानी हत्याकांड समेत अन्य कई मामलों का आरोपी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जमशेदपुर में सुशील के हत्यारों की तलाश