DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मर्चेंट नेवी में नौकरी के नाम पर बेरोजगारों से लाखों की ठगी

मर्चेंट नेवी में नौकरी दिलाने के नाम पर  लाखों की ठगी  का मामला सामने आया है। मामला उजागर होने के बाद नीतीश भारद्वाज सिंह पर दुमका टाउन थाने में धोखाधड़ी की प्राथमिकी दर्ज की गई है। वह खुद को एनबीएस मेरीटाइम शिपिंग एकेडमी का डायरेक्टर बताता है। अब तक 6 बेरोजगारों से 16 लाख से अधिक रुपए की ठगी की बात सामने आई है।

आरोपी गोड्डा के मेहरमा प्रखंड के दिग्घी सिवानपुर के पास भागईनकड़ा गांव का  है। उसने दुमका शहर के भागलपुर रोड में साईं मंदिर के पास एनबीएस मेरीटाइम शिपिंग एकेडमी खोल कर शिक्षित बेरोजगारों को नौकरी देने का प्रलोभन देकर ठगी की है। ठगी के शिकार अजय कुमार ने  नगर थाना में एफआईआर दर्ज कराई है।

धोखाधड़ी का शिकार होने वाला अजय पहला युवक नहीं है। अपने बयान में उसने पुलिस को बताया है कि संताल परगना के दुमका और देवघर के साथ  उत्तर प्रदेश में भी उसका नेटवर्क था। दुमका और देवघर के अलावा यूपी के मऊ में उसने कई बेरोजगारों को नौकरी के नाम पर चूना लगाया है। बेरोजगारों से उसने 15 हजार से लेकर 5 लाख तक की ठगी की है।

चेक बाउंस कर गया,कार्यालय में लग गया ताला:
डायरेक्टर नीतीश ने अजय कुमार से मर्चेंट नेवी में नौकरी दिलाने के नाम पर 4 लाख 40 हजार रुपए की मांग की। अजय यूपी के मऊ जिले के अन्तर्गत जगदीशपुर हलधरपुर का निवासी है। उसने दुमका में आकर मार्च 2014 में 2 लाख रुपया एडवांस  दिया। बाकी के रुपए भी अजय ने डायरेक्टर को दे दिया।

कागजी प्रक्रिया पूरी करने के नाम पर अजय को अपने ऑफिस के हॉस्टल में रखा। उसके बाद मुंबई एवं चेन्नई सहित अन्य शहरों में भेजा। कहा गया कि सर्विस सर्टिफिकेट उसी जगह पर दिया जाएगा,लेकिन कुछ नहीं मिला। लौटकर वह दुमका आने पर वह डायरेक्टर पर दबाव बनाने लगा। डायरेक्टर ने 4 लाख 40 हजार रुपए का चेक दिया और कहा कि एसबीआई से निकाल ले।  चेक बाउंस कर गया। उसके बाद जब वह एकेडमी के कार्यालय पहुंचा तो वहां ताला लटका हुआ था और डायरेक्ट भाग चुका था। इस बावत अजय ने नगर थाना में नीतीश के विरुद्ध धोखाधड़ी की एफआईआर दर्ज कराई।

ठगी के शिकार बेरोजगार
-उत्तरप्रदेश के मऊ जिला अन्तर्गत जगदीशपुर हलधरपुर का निवासी अजय कुमार से 4 लाख 40 हजार
-उत्तरप्रदेश के शुड़ीसुरी पोस्ट रतनपुर जिला मऊ के अजीरा राव से 2 लाख
-दुमका जिला के अमलाचातर गांव के संतोष मुर्मू से 2 लाख 70 हजार
-देवघर जिला के हिमांशु वाजपेयी से 2 लाख 40 हजार रुपया
-दुमका शहर के लखीकुंडी निवासी संगीता कुमारी से 15 हजार
-दुमका बगानपाड़ा के चंदू कुमार शर्मा से 5 लाख रुपए की ठगी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मर्चेंट नेवी में नौकरी के नाम पर बेरोजगारों से लाखों की ठगी