DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिंदरी का प्रसिद्ध लाल भवन को प्रशासन ने कराया ध्वस्त

सिंदरी का प्रसिद्ध लाल भवन को प्रशासन ने कराया ध्वस्त

धनबाद जिले के सिंदरी स्थित प्रसिद्ध लाल भवन को प्रशासन ने रविवार को ध्वस्त करा दिया। जमीन पर दावा करनेवाले अदालत में एफसीआइ सिंदरी प्रबंधन से केस हार गए। इसके बाद जिला प्रशासन ने कार्रवाई की। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद था।

जानकारी के अनुसार खाद कारखाना प्रबंधन ने 1957 में सूरज सिंह (अब स्वर्गीय) को कोयला डिपो बनाने के लिए यहां चार डिसमिल जमीन लीज पर दी थी। आरोप है कि सिंह ने चार की जगह 200 डिसमिल जमीन पर कब्जा कर मकान, दुकान आदि बना ली। खुद के रहने के रहने के लिए लाल रंग का आलीशान मकान लिया, जिसे लाल बंगला कहा जाता है। फिलवक्त इस जमीन पर सहारा इंडिया का शाखा कार्यालय सहित कई प्रतिष्ठान और दुकान भी चल रहे थे। 1977 में प्रबंधन ने जमीन का लीज रद्द कर दिया। इस फैसले के खिलाफ सिंह कोर्ट में गए।

2016 में धनबाद सिविल कोर्ट ने एफसीआइ प्रबंधन के हक में फैसला देते हुए जिला प्रशासन को जगह खाली कराने का आदेश दिया। इसके बाद रविवार को धनबाद कोर्ट के नाजिर विजय कुमार, एफसीआइ अधिकारी रविशंकर प्रसाद, देवदास अधिकारी की मौजूदगी में भवन को ध्वस्त कर दिया। एक दर्जन से अधिक प्रतिष्ठान भी खाली कराकर ध्वस्त कर दिए गए। पूरी जमीन को कब्जा मुक्त कराने के बाद प्रशासन ने एफसीआइ के हवाले कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sindris famous red building was demolished by the authorities