अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सामूहिक नकल में पकड़ा गया परीक्षा केन्द्र

जौनपुर। वरिष्ठ संवाददाता

वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में शुक्रवार को मुख्य परीक्षा के दौरान एक कालेज सामूहिक नकल में पकड़ा गया। टीम से कालेज के केन्द्राध्यक्ष ने नोकझोंक की। दोनों पालियों की परीक्षा में उङाका दलो ने कुल चार नकलचियों का रिस्टीकेट किया।

स्नातक की दोनों पालियों की परीक्षा उड़ाका दल के संयोजक डा. प्रदीप कुमार सिंह अपने सहयोगी डा. शैलेन्द्र वत्स, डा. विनोद सिंह, डा. जेपी सिंह के साथ नवयुवक महाविद्यालय मधपुर मुंगराबादशाहपुर में पहुचे। वहां अफरा तफरी मच गई, टीम ने देखा सभी कापियों में उत्तर बोल कर लिखाया गया था। सब एक जैसी लिखावट थी। नकल सामग्री के केन्द्र को सामूहिक नकल की रिपोर्ट की। टीम का आरोप है केन्द्राध्यक्ष से हस्ताक्षर करने के लिए कहा जिस पर वह टीम से उलझ गए। नोकझोंक करने लगे। रजिस्टर देने से मना कर दिया। मामला बढता देख टीम ने वहां से जाना उचित समझा। इस प्रकरण पीयू में रिपोर्ट किया गया।

प्रथम पाली में उड़ाका दल संयोजक डा. संतोष कुमार सिंह अपने सहयोगी डा. निलेश सिंह एवं डा. मनीष कुमार सिंह के साथ तिलकधारी स्नातकोत्तर महाविद्यालय जौनपुर निरीक्षण करने पहुंचे। वहां बीकाम प्रथम वर्ष का एक परीक्षार्थी नकल करते पकड़ा गया जिसे रिस्टीकेट कर दिया गया। इसके बाद टीम मुक्तेश्वर महाविद्यालय जौनपुर पहुंची। वहां कोई केंद्राध्यक्ष नहीं था तथा पेपर काटते समय जिन दो लोगों का हस्ताक्षर हुआ था वे अनुमोदित प्राध्यापक नहीं थे जो एक घोर अनियमितता की श्रेणी में आता है। शाम को गुलाब महाविद्यालय में दो छात्रों का रिस्टीकेट किया।

पीयू में नकल रोकने के लिए कड़ी कार्रवाई नहीं

जौनपुर। वरिष्ठ संवाददाता

वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय की मुख्य परीक्षा के दौरान नकल रोकने के लिए कोई कड़ी कार्रवाई न होने पर नकल माफियाओं का हौसला बुलन्द है। यहां कक्ष निरीक्षक भी नकल कराते हुए पकड़े जा रहे हैं फिर भी कोई बड़ी कार्रवाई नहीं हो रही है। सामूहिक नकल की शिकायत पर भी परीक्षा केन्द्र निरस्त नहीं हो रहा है।

उल्लेख्य कि पड़ोसी जनपद वाराणसी में महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ ने गुरुवार को बलिया में एक कालेज में सामूहिक नकल की शिकायत पर परीक्षा केन्द्र ही निरस्त कर दिया है। उसका केन्द्र दूसरे कालेज से सम्बद्ध कर दिया है। वहां के उड़ाकादल ने नकल रिपोर्ट भेजी थी। पूर्वांचल विश्वविद्यालय प्रशासन को भी इसी तरह की कदम उठाना होगा अन्यथा नकल की शिकायत बनी रहेगी।

इनसेट........

केन्द्रीय उड़ाका दल का गठन

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पीय के यूजी पीजी की परीक्षाओं के लिए केन्द्रीय उड़ाका दल का गठन किया गया जिसमें संयोजक डा. बृजेश मिश्र, को बनाया गया है। डा. अभिमन्यु यादव, डा. संजय नरायन सिंह, डा. राजेंद्र सोनकर को सदस्य बनाया गया है। शनिवार से टीम सभी जिलों के लिए रवाना होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Examination center caught in mass copy