DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईएस के अब तक दस हजार से ज्यादा आतंकी मारे गए

आईएस के अब तक दस हजार से ज्यादा आतंकी मारे गए

पिछले साल अमेरिकी कार्रवाई शुरू होने के बाद से अब तक आईएस के 10 हजार से ज्यादा आतंकी मारे जा चुके हैं। कुछ इलाकों में इस संगठन को पीछे हटना पड़ा है, पर उसकी हार नहीं हुई है। उसका आगे बढ़ना जारी है। इसे लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की  नीतियों की चौतरफा आलोचना भी हुई है।

अंग्रेजी अखबार अल-अरेबिया में जानकार अब्दुलरहमान अल-रशीद ने कहा है कि पिछले हफ्ते वाशिंगटन में ज्यादातर राजनीतिक और सैन्य विशेषज्ञों ने ओबामा की आईएस नीति को विफल और अस्पष्ट ठहराया। 

क्या है अमेरिकी रणनीति
आईएस के खिलाफ लड़ने की प्रतिबद्धता के तहत सीरिया और इराक में संगठन के ठिकानों पर हवाई हमले सैन्य गठजोड़ के बूते किए जा रहे हैं। जमीन पर इराक की मदद ली गई है।

चार हजार से ज्यादा हवाई हमले
उत्तरी अफ्रीका और मध्य-पूर्व की अमेरिकी हाउस सबकमेटी में सुनवाई के दौरान कहा गया कि आईएस को हुई क्षति का मतलब उसकी पराजय नहीं है। वह मजबूत हो रहा है। अमेरिका ने पिछले साल से अब तक 4000 से ज्यादा हवाई हमले किए हैं। 10 हजार आईएस लड़ाके मारे जा चुके हैं।

इलाकों के प्रबंधन में माहिर

आईएस अपने कब्जे वाले इलाकों के प्रबंधन और स्थानीय शक्तियों के इस्तेमाल में वह लगातार प्रगति कर रहा है। वह वह अपनी जरूरतों और दुष्प्रचार के लिए स्थानीय संसाधनों से राजस्व जुटाने में भी माहिर हो गया है।

लड़ाकों की भर्ती
सबसे अहम, आईएस और लड़ाकों की भर्ती में कामयाब हो रहा है। विशेषकर सुन्नी इराकी युवाओं को अपने पाले में ला रहा है। ऐसा इराकी सरकार की नाकामी से हो रहा है। सरकार शिया उग्रवादियों को सुन्नियों को मारने से रोक नहीं पा रही है।

समझ से परे नीति अमेरिकी नीति
अमेरिका की नीति समझ से परे है। वह चाहता तो है हर कोई आईएस के खिलाफ लड़े। लेकिन इराकी सरकार संप्रभुता के नाम पर अमेरिकियों को स्थानीय जनजातियों का सहयोग लेने से रोक रही है। अमेरिकी  राजदूत ने आईएस के खिलाफ लड़ने के लिए सुन्नी जनजातियों तैयार कर लिया था। उन्होंने हथियार देने का वादा किया था। लेकिन अमेरिकी राजदूत शिया पक्षों और इराकी प्रधानमंत्री की आपत्तियों के कारण अपने वादे से मुकर गए। जानकार अब्दुलरहमान अल-रशीद का कहना है कि अमेरिका बगदाद का पिछलग्गू बनकर नियंत्रण खो रहा है, जबकि हर कोई उससे लड़ाई का नेतृत्व करने की उम्मीद कर रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आईएस के अब तक दस हजार से ज्यादा आतंकी मारे गए