DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यमन में 560 लोगों की मौत, 1700 से ज्यादा जख्मी

यमन में 560 लोगों की मौत, 1700 से ज्यादा जख्मी

राहतकर्मियों ने कहा है कि यमन में सऊदी अरब नीत हवाई हमलों, शिया विद्रोहियों और राष्ट्रपति के वफादार सैनिकों के बीच लड़ाई में दर्जनों बच्चों सहित कम से कम 560 लोग मारे जा चुके हैं और वहां दवाओं की आपूर्ति को मंजूरी नहीं मिलने से मानवीय संकट उत्पन्न हो सकता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कल कहा कि पिछले तीन हफ्तों में लड़ाई और तेज हुई है। वहां 1700 से ज्यादा लोग इस लड़ाई में जख्मी हुए हैं और एक लाख लोग अपने घरों को छोड़कर जा चुके हैं। सुदी अरब के नेतृत्व मे जब से हवाई हमले शुरू हुए हैं तब से रेड क्रॉस की पहली खेप यमन पहुंचेगी।

अंतरराष्ट्रीय समिति की जिनेवा स्थित प्रवक्ता सितारा जबीं ने बताया कि 17 टन चिकित्सकीय आपूर्ति लेकर गया मालवाहक विमान जॉर्डन की राजधानी अम्मान में है और सना पहुंचने के लिए गठबंधन बलों से मंजूरी मिलने का इंतजार कर रहा है। उम्मीद है कि आज मंजूरी मिल जाए। 35 टन की अन्य आपर्ति भी तैयार है।

सितारा ने कहा, अगर यह चिकित्सकीय आपूर्ति यमन नहीं पहुंचती हैं तो दुर्भाग्य से हमें और लोगों के मरने का डर है। उन्होंने कहा कि एक चिकित्सकीय दल भी यमन के अदन बंदरगाह पर पहुंचने के लिए अनुमति का इंतजार कर रहा है, जहां पर सोमवार को हुई भीषण लड़ाई के बाद सड़कों पर लाशें पड़ी है।

यमन के राष्ट्रपति अबेद रब्बो मंसूर हादी के समर्थन में सउदी अरब की अगुवाई में हो रहे हवाई हमलों ने 13वें दिन में प्रवेश कर लिया है लेकिन हुतियों को अदन की ओर बढ़ने से रोक पाने में विफल रहा है। अदन यमन का दूसरा सबसे बड़ा शहर है और दो हफ्ते पहले राष्ट्रपति हादी के देश छोड़कर सउदी अरब जाने से पहले इसे प्रांतीय राजधानी घोषित किया गया था।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कल कहा कि इस लड़ाई में कम से कम 560 लोग मारे गए हैं और 1,768 लोग जख्मी हुए हैं, उनमें से कई नागरिक हैं। संयुक्त राष्ट्र बाल एजेंसी ने कहा कि जब से हवाई हमले शुरू हुए हैं तब से कम से कम 74 बच्चों मारे गए हैं, जबकि कम से कम 44 बच्चे घायल हुए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यमन में 560 लोगों की मौत, 1700 जख्मी