अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तनाव में महिला ने फांसी लगाकर दी जान

कई दिनों से तनाव में रह रही एक महिला ने शुक्रवार भोर पहर फांसी लगा ली। सुबह होने पर जानकारी हुई तो परिजनों में कोहराम मच गया। मामले की जानकारी पर पहुंचे मायकेपक्ष ने पुलिस को सूचना देकर शव का पोस्टमार्टम कराने की बात कही। मायकेपक्ष ने किसी भी तरह का आरोप नहीं लगाया है।

कस्बा निवासी हरिओम विश्वकर्मा की पत्नी शालिनी (22) ने शुक्रवार भोर पहर फांसी लगाकर अपनी जीवन-लीला समाप्त कर ली। पति ने बताया कि बुधवार को गांव की ही पिकअप चित्रकूट गई थी। जिसके साथ वह भी घूमने चला गया था। चित्रकूट से वह शुक्रवार को भोर में चार बजे घर आया था जिसके बाद उसकी पत्नी ने ही दरवाजा खोला था। घर पहुंचने के बाद वह सो गया। सुबह होने पर उसकी नींद खुली तो पत्नी कमरे में नहीं थी। उसने बगल वाले कमरे में जाकर देखा तो शालिनी फांसी के फंदे से झूल रही थी। जिसको देख उसकी चीख निकल गई। जिससे घर के सभी परिजन आ गए। मामले की जानकारी पर शालिनी के मायकेपक्ष गाजीपुर थाना क्षेत्र के बड़ागांव मछरिया से पिता ललित नारायण पहुंचे और उन्होंने बताया कि उन्होंने शालिनी की शादी दो साल पहले की थी। वह गुरुवार को बेटी की ससुराल आए थे। जहां शालिनी साथ में चलने की जिद कर रही थी, लेकिन उन्होंने मना कर दिया था। पिता ने पुलिस को सूचना देकर पोस्टमार्टम कराने की बात कही और रिपोर्ट आने के बाद कानूनी कार्यवाही करने की बात कही। शालिनी की ग्यारह माह की बेटी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:तनाव में महिला ने फांसी लगाकर दी जान