अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इनकम टैक्स अधिकारी बनकर सर्राफा दुकानदार को लूटा

शहर में कभी लूट तो कभी टप्पेबाजी तो कभी चोरी की वारदात थमने का नाम नहीं ले रही हैं। जहां एक ओर पुलिस सड़कों पर टहल कर अपराधियों में दहशत फैलाने की बात कह रही है। वहीं बेखौफ बदमाशा दिन दहाडे़ वारदात को अंजाम दे रहे हैं। बदमाश पुलिस को चुनौती दे रहे हैं। शुक्रवार को रद्धेपुरवा रोड पर इनटैक्स के अधिकारी बनकर एक सराफा दुकानदार को दिन दहाडे़ लूट लिया। इस घटना से लोगों में दहशत फैल गई। वहीं सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस जांच करने में जुटी है। लेकिन बदमाशों का कोई सुराग नहीं मिला।

कोतवाली देहात के औरेनी निवासी रामसिंह कुशवाहा की सोनम ज्वैलर्स के नाम से कोतवाली शहर के रद्धेपुरवा रोड पर दुकान है। रामसिंह के मुताबिक शुक्रवार को एक पल्सर से दो बदमाश दुकान के अंदर आए पहले तो खुद को इनटैक्स का अधिकारी बताते हुए बिक्री रजिस्टर मांगा और आभूषणों के बारे में जानकारी ली। आभूषणों को लॉकर से बाहर निकलवाया। उसके बाद सात किलो चांदी के आभूषण व 15 ग्राम सोने के जेवरात समेट कर चल दिए। विरोध करने पर एक बदमाश ने दुकानदार की ओर तमंचा सीधा कर दिया। तब तक दूसरा बदमाशा पूरा जेवरात अपने कब्जे में लेकर मौके से फरार हो गया। यहां तक बदमाश ने दुकानदार को जब तक नहीं उठने दिया जब तक उसका साथी काफी दूर तक चला नहीं गया। उसके बाद खुद पल्सर पर सवार होकर मौके से फरार हो गया। प्रत्यक्षदर्शी लोगों के मुताबिक बाइक पर पल्सर लिखा था। जिससे दुकानदार को कोई संदेश नहीं हुआ। संदेश जब हुआ जब बदमाश जेवर लेकर मौके से फरार हुए। घटना की सूचना पाकर शहर पुलिस मौके पर पहुंची। शहर कोतवाल कमलेश नारायण पांडेय के मुताबिक प्रथम दृष्टया दुकानदार की तहरीर पर धोखाधड़ी और टप्पेबाजी के आरोप में रिपोर्ट दर्ज की गई है, हालांकि मामल संदिग्ध लग रहा है, लूट का नही है। लेकिन दुकानदार के बयानों में भी भिन्नता मिल रही है, मामले की जांच की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इनकम टैक्स अधिकारी बनकर सर्राफा दुकानदार को लूटा