Two nygiran arrested in siber crime - फेसबुक पर दोस्ती कर ठगी करने वाले दो नाईजीरियन गिरफ्तार- DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फेसबुक पर दोस्ती कर ठगी करने वाले दो नाईजीरियन गिरफ्तार-

पिछले चार दिनों में दर्ज सौ से अधिक राइबर अपराध के मामलों से परेशान पुलिस ने बुधवार को दो विदेशी ठगों को एक महिला के साथ गिरफ्तार कर लिया। दोनों ने फेसबुक पर महिला का फर्जी प्रोफाइल बनाकर पहले दोस्ती गांठी और फिर हजारों की चपत लगा थी।

निजी कंपनी में कार्यरत हितेश व्यास ने राजेन्द्रपार्क थाना पुलिस पिछले दिनों शिकायत दी थी कि फेसबुक पर उसकी जान पहचान लंदन की एक लड़की से हुई। दोस्ती के बाद युवती ने उसे लैपटॉप और सोने की घड़ी उपहार में भेजने की बात कही। 13 दिसंबर को हितेश के पास मोना नामक लड़की का फोन आया और कस्टम ड्यूटी के नाम पर 35 हजार रुपये मांगे ।अगले दिन फिर मोना ने फोन कर बताया कि इनकम टैक्स ने कोरियर रोक लिया और 72,500 रुपये जमा कराने की बात कहीं। हितेश को शक होने पर उसने रिपोर्ट दर्ज कराई।

साइबर क्राइम सेल के प्रभारीआनंद कुमार ने बताया कि मामले में तीन जनवरी को मामले में एक महिला को दिल्ली से से गिरफ्तार किया। इसके बाद पता चला कि नाइजीरिया के इब्राहिम और जामिया मिलिया के बीएससी के छात्र कैनेथ उसके साथ हैं। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। बुधवार को दोनों को पुलिस ने रिमांड पर ले लिया। पूछताछ में पता चला कि वे फेसबुक पर विदेशी युवती का फर्जी प्रोफाइल बनाकर दोस्ती करते थे। बाद में महंगे गिफ्ट और नकद पैसा कोरियर से भेजने के बहाने महिला के अकाउंट में पैसे डालते थे।

आईटी सेल को तीनों से कई मामलों के खुलने की उम्मीद है। इनकी गिरफ्तारी के बारे में नाइजीरियन एंबेसी को सूचित किया जा चुका है। महिला आरोपियों को कमीशन पर कमरे दिलाने और ठगी में सहयोग करती थी। दोनों बिना वीजा के भारत में चोरी छिपे रह रहे थे। मालूम हो कि 2016 में 2500 साइबर अपराध की शिकायतें आईं थीं। इसमें से 400 में रिपोर्ट दर्ज हुई थी। 1200 सौ मामले एटीएम,क्रेडिट कार्ड आदि से धोखाधड़ी के मामले थे।

बचे ऐसे लोगों-

साइबर सेल के प्रभारी ने बताया कि सोशल साइट पर अज्ञात लोग के फ्रेड्स रिक्वेस्ट स्वीकार न करें,अपनी जानकारी दूसरे से शेयर न करे। झूठे उपहार से बचे।

11 अप्रैल-2016

सुशांतलोक निवासी अलका शर्मा से तीन नाइजीरियन 15 लाख रुपये ठग लिए थे। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि फेसबुक के माध्यम से नाईजीरियन गिरोह के सदस्य से संपर्क हुआ। अपना परिचय यूके के नागरिक के रुप में देते हुए भारत में कराड़ों रुपये निवेश करने की बात कही थी। दोनों की वाट्सअप पर बातचीत होने लगी। एयरपोर्ट पर कस्टम के बहाने ठगी किया था। पुलिस तीन को गिरफ्तार किया था।

तीन में 100 से अधिक साइबर मामले दर्ज हुए थे-

गुरुग्राम में साल के अंत में साइबर अपराधों की बाढ़ से आ गई। सात के तीन दि में करीब सौ से अधिक लाटरी, एटीएम,खाते की जानकारी लेकर,क्रेडिट कार्ड से धोखाधड़ी के मामले आए थे। 30 दिसंबर को 20 मामले, 31 दिसंबर 50 मामले, एक जनवरी को 30 मामले आए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two nygiran arrested in siber crime