DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फोन पर सूचना देने पर नगर निगम भरेगा गड्ढे

फोन पर सूचना देने पर नगर निगम भरेगा गड्ढे

-नगर निगम जारी करेगा हेल्पलाइन नंबर

-अगले सप्ताह से शुरू होगी योजना

-15 दिनों में भरने होंगे 22 किलोमीटर सड़क के गड़्ढे

-एक माह में 56 किलोमीटर सड़क के भरे गड्ढे

नगर निगम अब शहर की सड़कों पर गड़्ढों को फोन पर सूचना के आधार पर भरेगा। नगर निगम अगले सप्ताह से इस योजना को लागू करेगा। निगम को 15 दिनों में 22 किलोमीटर सड़क के गड़्ढे भरने हैं। पिछले एक माह से भी अधिक समय में अभी तक 56 किलोमीटर सड़क के गड़्ढे भर पाए हैं।

प्रदेश के मुख्यमंत्री ने 15 जून तक प्रदेश को गड्ढा मुक्त करने के आदेश जारी किए हैं। इसके बाद से नगर निगम इस काम में जुटा हुआ है। निगम के सर्वे के मुताबिक उसे 78 किलोमीटर सड़क पर गड़्ढे भरने हैं। गड्ढे भरना का काम नगर निगम पिछले एक माह से भी अधिक समय से कर रहा है। निगम अधिकारियों की कहना है कि अब तक करीब 56 किलोमीटर सड़कों को गड़्ढा मुक्त किया जा चुका है। बाकी करीब 22 किलोमीटर की सड़कों को 15 दिनों में गड़्ढा मुक्त कर दिया जाएगा। इसके लिए नगर निगम की टीम रात-दिन कार्य कर रही है। उम्मीद है कि अगले 10 दिनों में शहर में एक भी सड़क पर गड़्ढा दिखाई नहीं देगा।

फोन पर सूचना की जाएगी एकत्र

नगर निगम अपने हेल्पलाइन नंबर 18001803012 पर लोगों से गड्ढों की जानकारी मांगेगा। कोई भी नगर निगम क्षेत्र में रहने वाला व्यक्ति इस नंबर पर फोन करके बता सकता है कि कौन सी सड़क पर गड्ढा है और उससे कितना नुकसान है। नगर निगम की टीम उस स्थान का मुआयना कराएंगी। उसके बाद प्राथमिकता के तौर पर गड़्ढों को भरा जाएगा। यह व्यवस्था अगले सप्ताह से शुरू होगी।

गड़्ढा भरने के साथ पैच वर्क भी होगा

निगम के अधिशासी अभियंता संजय चौहान ने बताया कि अधिकतर सड़कों पर छोटे गड़्ढे भरे जा चुके हैं। अब ऐसी सड़कों पर पैचवर्क किया जा रहा है जो बीच से काफी टूट चुकी हैं। कालका गढ़ी से होली चाइल्ड स्कूल जाते समय सड़क बीच में काफी खराब थी। इस सड़क का निर्माण अवस्थापना निधि से किया जाना है लेकिन अभी इसको बीच में पैचवर्क कर दिया गया है। इसके कारण अब इस सड़क पर लोगों को हो रही परेशानी काफी हद तक दूर हो गई है।

10 जून तक रखा गया है लक्ष्य

निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता संजय चौहान का कहना है कि जिस तेजी के साथ कार्य किया जा रहा है उससे साफ है कि 10 जून तक शहर की सड़कों को पूरी तरह गड्ढा मुक्त कर दिया जाएगा। निगम का लक्ष्य 10 जून तक रखा गया है। बचे हुए पांच दिनों में शिकायतों का निस्तारण किया जाएगा। ताकि बाद में कोई इसके लिए शिकायत न करे।

सड़कों को गड़्ढा मुक्त करने का काम तेजी से किया जा रहा है। शहर की सभी सड़कों को तय समय से पहले गड्ढा मुक्त कर दिया जाएगा।

-सीपी सिंह, नगरायुक्त

कितने नाले साफ हुए, रोजाना होगा रिपोर्टिंग

-सभी जोनल प्रभारी देंगे महापौर व नगरायुक्त को रोजाना की रिपोर्ट

गाजियाबाद। वरिष्ठ संवाददाता

नगर निगम के कर्मचारियों के रोजाना कितने नालों को साफ किया, इसकी जानकारी रोजाना देनी होगी। इसके लिए सभी जोनल प्रभारियों को निर्देश जारी कर दिए हैं। केवल जानकारी ही नहीं इसकी फोटोग्राफी भी करानी होगी। मंडलायुक्त के निर्देश पर डीएम ने नगर निगम को 15 जून तक नालों की सफाई की रिपोर्ट मांगी है।

बरसात से पहले नगर निगम शहर के नालों की सफाई करता है। कुछ नालों को नगर निगम अपने कमचारियों के जरिए साफ कराता तो कुछ को ठेके पर मशीन लेकर खुद कराया है। 54 नालों की सफाई ठेके पर कराई जाती है। इन दिनों नालों की सफाई युद्ध स्तर पर कराई जा रही है। नवनियुक्त नगरायुक्त ने आते से सबसे पहले नालों की साफ सफाई पर ध्यान दिया। अब नगरायुक्त ने सभी जोनल प्रभारी व सेनेट्री इंस्पेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि वह रोजाना कहां व किन नालों की सफाई की गई इसकी रिपोर्ट करेंगे। इतना ही नहीं नालों की सफाई करते हुए फोटो व वीडियो भी बनाकर सुरक्षित करनी होगी। वह कभी भी किसी भी नालों की स्थिति का औचक निरीक्षण करेंगे। साथ ही उच्च अधिकारियों को रिपोर्ट भेजते समय यह रिकॉर्ड काम आएगा। पूरा रिकॉर्ड मंडलायुक्त को भेजा जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The city will fill the pit on information on the phone