class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्या BIG B की तरह King Khan सेकेंड इनिंग खेल पाएंगे?

क्या  BIG B की तरह King Khan सेकेंड इनिंग खेल पाएंगे?

1/3 क्या BIG B की तरह King Khan सेकेंड इनिंग खेल पाएंगे?

 

शाहरुख खान की अगली फिल्म के लिए सेकेंड इनिंग नाम बुरा नहीं है। 'दिलवाले' और 'फैन' की असफलता के बाद वाकई शाहरुख खान को जरूरत थी अपने अंदर झांक कर कुछ अहम फैसले करने की। हालिया रिलीज फिल्म 'डियर जिंदगी' देख कर लगता है, इसमें वे काफी हद तक सफल भी हुए हैं।

हर सिमरन का राज

शाहरुख खान को शुरू से ही वूमंस हीरो माना जाता है। नए जमाने की सोच और खुली दिमाग वाला हीरो। 'दिलवाले दुल्हिनया ले जाएंगे' में वह एटरनल रोमांटिक राज के रूप में सिमरन की मां से कहता है कि वह सबकी रजामंदी से शादी करेगा, अपनी हीरोइन को भगा कर नहीं ले जाएगा। उसने ही एक पूरी पीढ़ी को करवा चौथ के दिन अपनी पत्नी के साथ व्रत रखना सिखाया। वीर-जारा का दिलदार प्रेमी, जो अपनी प्रेमिका की इज्जत और नाम की खातिर पाकिस्तान के जेल में सालों तक कैद में रहना मंजूर कर लेता है। रब ने बना दी जोड़ी के सूरी साहब, जो अपने से छोटी लड़की के साथ शादी करने के बाद अपना प्यार साबित करने के लिए अपना ही छड़ा हमशक्ल बन जाता है।

दिमाग का डॉक्टर

डियर जिंदगी में शाहरुख अपने इसी दिलदार अवतार के साथ लौटै हैं डॉक्टर जहांगीर खान की भूमिका में। यह फिल्म नायिका आलिया भट्ट यानी कायरा की है और दिमाग का डॉक्टर जहांगीर उसकी व्यक्तिगत समस्याओं और कुंठाओं को दूर करने में उसकी मदद करते हैं। 'चक दे इंडिया' के बाद एक बार फिर 'किंग खान' अपने हीरोपने से दूर एक फ्रेंड, फिलॉसफर और गाइड की भूमिका निभाते आए हैं। हालांकि फिल्म में उनकी एंट्री इंटरवल के आसपास होती है। फिल्म में उनकी भूमिका भी खास बड़ी नहीं है। पर यह भूमिका उन पर खासी जंची है। ना कोई हीरोगिरी है, ना बांहें फैलाकर रोमांस...दिलवाले और फैन के बाद इसकी कोई जरूरत भी नहीं थी। पुराने फॉर्मूले उन पर ना फिट बैठ रहे थे ना ही उनको आगे बढ़ने में कोई मदद कर रहे थे। एक तरह से हम कह सकते हैं कि डियर जिंदगी से हिंदुस्तानी स्त्रियों के प्रिय नायक शाहरुख खान की वापसी हुई है। ये वो किंग खान है, जिनके हम दीवाने हैं। अपने हीरो को अब हम रोमांस करते या लड़ते हुए नहीं, बल्कि एक दोस्त और गाइड के रूप में देखना चाहते हैं।

Next