DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुनील दत्त की पांच सदाबहार फिल्में

सुनील दत्त की पांच सदाबहार फिल्में

सुनील दत्त के जन्मदिन पर हम आपके लिए लाए हैं उनकी पांच सदाबहार फिल्में जिसमें उनके अभिनय से किरदार जीवंत हो उठा। भले ही सुनील दत्त आज हमारे बीच नहीं हैं पर उनके यादगार किरदार हमेशा सबके ज़हन में जिंदा रहेंगे।

 
1. मदर इंडिया : 1957 में रिलीज़ हुई 'मदर इंडिया' हिंदी सिनेमा की सबसे एतिहासिक फिल्मों में से एक है। पूरे भारत को झकझोर कर रखने वाली फिल्म 'मदर इंडिया' में निभाए किर्दार 'बिर्जू' ने ही सुनील दत्त को सफलता की सीढ़ी दिखाई थी, जिसके बाद उन्हों ने फिर कभी पीछे पलट कर नहीं देखा।
डायरेक्टर : महबूब खान
प्रोड्यूसर : महबूब खान
सहकलाकार : नर्गिस, राजेंद्र कुमार, राज कुमार
संगीत : नौषाद
 
2. यादें: सुनील दत्त निर्देशित 1964 में बनी फिल्म ‘यादें’ उसी क्रियेटिविटी और अनूठेपन की बानगी दर्शाती ‘ब्लैक एण्ड वाइट’ जमाने की एक खूबसूरत कृति है। ‘यादें’ जिसमें कि शुरू से अंत तक केवल और केवल सुनील दत्त नजर आते हैं। एक घर में, कभी किचन में नजर आते हैं, कभी ड्राईंग रूम में, कभी बेडरूम में तो कभी बाथरूम में केवल और केवल सुनील दत्त।
डायरेक्टर: सुनील दत्त
प्रोड्यूसर: सुनील दत्त
सहकलाकार: नरगिस दत्त
संगीत: वसंत देसाई
 
3. हमराज़
   डायरेक्टर: बी. आर. चोपड़ा
  प्रोड्यूसर: बी. आर. चोपड़ा
  सहकलाकार: राज कुमार, विम्मी
  संगीत: रवी
 
4.पाड़ोसन : बॉलिवुड की सदाबहार कॉमेडी फिल्मों में से एक 1968 में रिलीज़ हुई 'पाड़ोसन' में भोला (सुनील दत्त) के भोले और मासूम किर्दार को शायद ही कोई भुला सकता है।
डायरेक्टर : ज्योती स्वरूप
प्रोड्यूसर : महमूद, एन.सी. सिप्पी
सहकलाकार : सायरा बानू, किशोर कुमार, महमूद
संगीत : आर.डी. बरमन
 
5. मुन्ना भाई : बॉलिवुड की क्लासिक कॉमेडी फिल्मों में शुमार 'मुन्ना भाई एम.बी.बी.एस' सुनील दत्त की आखिरी फिल्म थी।
डायरेक्टर : राज कुमार हिरानी
प्रोड्यूसर : विधू विनोद चोपड़ा
सहकलाकार : संजय दत्त, ग्रेसी सिंह, जिमी शेरगिल, बमन इरानी, अरशद वार्सी
संगीत : अनु मलिक
 
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुनील दत्त की पांच सदाबहार फिल्में