Tuesday, January 25, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़नेहा कक्कड़ के पिता स्कूल के बाहर बेचते थे समोसे, बच्चे देते थे ताने

नेहा कक्कड़ के पिता स्कूल के बाहर बेचते थे समोसे, बच्चे देते थे ताने

लाइव हिन्दुस्तान टीम
Mon, 13 Feb 2017 07:06 PM
नेहा कक्कड़ के पिता स्कूल के बाहर बेचते थे समोसे, बच्चे देते थे ताने
4/4

सिर पर सवार नहीं होने दूंगी स्टारडम

सवालः तंगी में दिन गुजारने के बावजूद आज आपके पास ऑडी कार है और तमाम ऐसी चीजें हैं जो आपको स्टार बनाती हैं। ऐसे में आप कैसे स्टारडम को हैंडल करती हैं?

जवाबः मेरे लिए स्टारडम जैसा कुछ नहीं है। बस मैं चाहती हूं कि भगवान इसी तरह मुझ पर दया दिखाए और मुझे और काम मिले। मैं जानती हूं कि जिस दिन मेरे सिर पर स्टारडम का भूत चढ़ गया उसी दिन मेरी जगह कोई और ले लेगा और मुझे गायब होते देर नहीं लगेगी। इसलिए मैं अपने अक्ल को ठिकाने पर रखती हूं और जमीन से जुड़े रहने की कोशिश करती हूं।

नेहा कक्कड़ के पिता स्कूल के बाहर बेचते थे समोसे, बच्चे देते थे ताने

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें