DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीयू एडमिशन: 70:30 का फॉर्मूला दिलाएगा दाखिला

डीयू एडमिशन: 70:30 का फॉर्मूला दिलाएगा दाखिला

दिल्ली विश्वविद्यालय के विज्ञान कोर्स में दाखिला लेने जा रहे छात्रों के लिए 70:30 का फॉर्मूला जानना बेहद जरूरी है। विश्वविद्यालय में विज्ञान के 25 कोर्स हैं और सभी कोर्स में दाखिला के लिए यही सूत्र अपनाया जा रहा है। ये नियम खासकर उन बोर्ड के छात्रों के लिए ध्यान देने योग्य है जिनमें 30 अंक से अधिक के प्रैक्टिकल होते हैं।

डीयू के विज्ञान कोर्स में दाखिला बेस्ट फोर विषयों के प्रतिशत पर नहीं बल्कि मुख्य रूप से फिजिक्स, केमेस्ट्री, मैथ (पीसीएम) और फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायोलॉजी (पीसीबी) के आधार पर होता है। सभी विषयों के थ्योरी और प्रैक्टिकल के अंक 70:30 अनुपात में होने चाहिए, ऐसा नहीं होने पर उस विषय के कुल अंकों में से 10 अंक कम कर दिए जाएंगे।

इसमें थ्योरी में कक्षा के आतंरिक मूल्यांकन और निरंतर मूल्यांकन के अंकों को शामिल नहीं किया जाएगा। सिर्फ बीएससी (मैथमेटिकल साइंस) कोर्स के लिए पीसीबी या पीसीएम का फॉर्मूला लागू नहीं होता है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) में विषय के थ्योरी और प्रैक्टिकल के अंक इसी अनुपात में होते हैं।

इससे उन्हें फायदा होगा। कुछ राज्यों के बोर्ड प्रैक्टिकल के अंक 30 से अधिक रखते हैं, ऐसे बोर्ड के छात्रों को नुकसान होगा। भाषा के रूप में अंग्रेजी पढ़ी होनी आवश्यक होती है।

डीयू में दाखिले के लिए दो लाख से अधिक पंजीकरण: डीयू में ऑनलाइन फॉर्म भरने का सिलसिला तेजी से जारी है। बुधवार शाम 5:00 बजे तक दो लाख से अधिक छात्रों ने ऑनलाइन पंजीकरण कराया है। 1.13 लाख से अधिक छात्र ऑनलाइन फीस का भुगतान भी कर चुके हैं।

डीयू से जुड़े एक अधिकारी का कहना है कि डीयू में इतनी तेजी से फॉर्म भरे जा रहे हैं कि जल्द पिछले साल का रिकॉर्ड टूट जाएगा। पिछले वर्ष ढाई लाख से ज्यादा फॉर्म भरे गए थे। बुधवार तक सामान्य श्रेणी के 75 हजार से अधिक छात्र आवेदन कर चुके हैं। ओबीसी श्रेणी के 24 हजार से अधिक, एससी से संबंधित 11 हजार से ज्यादा व एसटी के 2 हजार से अधिक आवेदन आ चुके हैं। 

विज्ञान कोर्स में दाखिले के लिए योग्यताएं
बीएससी (ऑनर्स) वनस्पति विज्ञान, जीव विज्ञान, माइक्रोबायोलॉजी: 12वीं में रसायन, रसायन विज्ञान और बायोलॉजी/बायोटेक में पढ़ा और पास होना आवश्यक है। भौतिकी, रसायन और गणित (पीसीएम) में 55 फीसदी अंक जरूरी।

बीएससी (ऑनर्स) बायोलॉजिकल साइंस: कक्षा 12वीं में भौतिकी, रसायन विज्ञान, गणित/कंप्यूटर साइंस और जीवविज्ञान/बायोटेक में पढ़ा और पास होना आवश्यक। तीन विषयों में 55 फीसदी से अधिक अंक चाहिए। अंग्रेजी में भी पास जरूरी।

बीएससी (ऑनर्स) भौतिकी विज्ञान, रसायन विज्ञान, इलेक्ट्रॉनिक्स, इंस्ट्रमेंटेशन, पॉलीमर साइंस: कक्षा 12वीं में पीसीएम में 55 फीसदी के अलावा अंग्रेजी में 50 फीसदी अंक अनिवार्य हैं।

बीएससी (ऑनर्स) भूविज्ञान: बारहवीं में भौतिकी, रसायन, गणित/भूविज्ञान/जीवविज्ञान/बायोटेक/भूगोल पढ़े और तीन विषय में 55 प्रतिशत अंक होने जरूरी हैं। अंग्रेजी में 50 फीसदी अंक अनिवार्य हैं।

बीएससी (ऑनर्स) फूड टेक्नोलॉजी, बायोकेमेस्ट्री: बारहवीं में भौतिकी, रसायन विज्ञान, गणित और जीव विज्ञान/बायोटेक पढ़े और चार विषय में 55 फीसदी अंक होने आवश्यक हैं। अंग्रेजी में पास होना भी आवश्यक है।

बीएससी (फिजिकल साइंस): कक्षा 12वीं में भौतिकी, रसायन विज्ञान/कंप्यूटर साइंस और गणित पढ़े और तीनों विषयों में कुल 45 प्रतिशत होने आवश्यक हैं। इसके अलावा अंग्रेजी में पास होना भी जरूरी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:DU Admission: Admission will make Formula 70:30