DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोफोर्स सौदे में क्वात्रोच्चि ने ली थी दलाली: न्यायाधिकरण

बोफोर्स सौदे में क्वात्रोच्चि ने ली थी दलाली: न्यायाधिकरण

बोफोर्स का भूत एक बार फिर कांग्रेस के पीछे पड़ गया है और एक आयकर न्यायाधिकरण ने कहा है कि होवित्जर तोप सौदे में दिवंगत विन चड्डा और इतालवी व्यापारी ओत्तावियो क्वात्रोच्चि को 41 करोड़ रुपए की रिश्वत दी गयी थी तथा ऐसी आमदनी पर भारत में उन पर कर देनदारी बनती है।

आयकर अपीली न्यायाधिकरण ने 98 पृष्ठों के आदेश में कहा कि इस संबंध में निष्क्रियता से यह अवांछनीय धारणा बन सकती है कि भारत एक नरम देश है और कोई भी कर कानूनों में हस्तक्षेप कर आसानी से बच सकता है।

न्यायाधिकरण ने विन चड्डा के पुत्र की अपील को खारिज करते हुए यह आदेश दिया। आयकर विभाग ने 1987-88 और 1988-89 के लिए कर के रूप में उनके पिता से 52 करोड़ 85 रुपए का दावा किया था।

न्यायाधिकरण ने अपने आदेश में 1986 में हुए 1437 करोड़ रुपए के सौदे में तोप बनाने वाली कंपनी द्वारा किसी बिचौलिए के होने से इंकार किए जाने का भी जिक्र किया गया है। इसके अलावा राशि हस्तांतरित किए जाने के लिए क्वार्टरडेक द्वारा कई खाते खोले जाने के प्रयासों का भी जिक्र है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बोफोर्स सौदे में क्वात्रोच्चि ने ली थी दलाली: न्यायाधिकरण