DA Image
हिंदी न्यूज़ › मानसून सत्र के पहले ही दिन सदन की कार्यवाही बाधित
देश

मानसून सत्र के पहले ही दिन सदन की कार्यवाही बाधित

एजेंसी
Mon, 05 Aug 2013 03:24 PM
मानसून सत्र के पहले ही दिन सदन की कार्यवाही बाधित

संसद के मानसून सत्र के पहले ही दिन सोमवार को आंध्र प्रदेश के विभाजन के विरोध में दोनों सदनों (लोकसभा और राज्यसभा) में जमकर हंगामा हुआ, जिसके कारण दोनों सदनों की कार्यवाही बाधित हुई है।

राज्यसभा की कार्यवाही तीन बार स्थगित की गई, पहली बार 15 मिनट के लिए, दूसरी बार दोपहर तक के लिए और उसके बाद अपराह्न् दो बजे तक के लिए।

राज्यसभा की कार्यवाही पूर्वाह्न् 11 बजे शुरू हुई। सभापति हामिद अंसारी ने शोक प्रस्ताव पेश किए और नए सदस्यों को शपथ दिलाई। इसके तुरंत बाद सीमांध्रा क्षेत्र के सांसद सभापति के आसन के समक्ष एकत्र हो गए। वहीं, बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट के सदस्य विश्वजीत दायमरी भी सभापति के आसन के समक्ष आकर असम में अलग बोडोलैंड राज्य के गठन की मांग करने लगे।

हंगामे को देखते हुए राज्यसभा की कार्यवाही पहले 15 मिनट के लिए, फिर दोपहर तक के लिए और बाद में दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। दोपहर में सदन की कार्यवाही शुरू होने पर भी पृथक तेलंगाना के विरोध में प्रदर्शन जारी रहा, जिसके कारण उपसभापति पी. जे. कुरियन ने सदन की कार्यवाही अपराह्न् दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

लोकसभा में भी प्रश्नकाल के दौरान इसी तरह की स्थिति देखने को मिली। हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही 11.45 बजे दोपहर तक के लिए स्थगित कर दी गई। दोपहर में कार्यवाही शुरू होने पर भी तेलंगाना के मुद्दे पर हंगामा जारी रहा। कुछ सदस्य असम से अलग बोडोलैंड के गठन की मांग को लेकर हंगामा कर रहे थे। लेकिन हंगामा शुरू होने से पहले लोकसभा एक प्रश्न को निपटाने में सफल रहा।

संबंधित खबरें