फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़फलक के नाना-नानी ने बताई दामाद के जुल्म की कहानी

फलक के नाना-नानी ने बताई दामाद के जुल्म की कहानी

नई दिल्ली स्थित एम्स के ट्रामा सेंटर में जीवन मौत के बीच झूल रही बच्ची फलक के नाना और नानी ने उसकी मां के साथ किए गए उसके पति के जुल्म और देह व्यापार के दलदल की कहानी बयान की है। बीते 18 जनवरी 2012...

फलक के नाना-नानी ने बताई दामाद के जुल्म की कहानी
एजेंसीSat, 11 Feb 2012 01:16 PM
ऐप पर पढ़ें

नई दिल्ली स्थित एम्स के ट्रामा सेंटर में जीवन मौत के बीच झूल रही बच्ची फलक के नाना और नानी ने उसकी मां के साथ किए गए उसके पति के जुल्म और देह व्यापार के दलदल की कहानी बयान की है।

बीते 18 जनवरी 2012 को घायल अवस्था में एम्स में भर्ती करायी गयी फलक की मां मुन्नी उर्फ हफीजम्न खातून मुजफ्फरपुर जिले के मनियारी थाना अंतर्गत सिलौत गांव में रह रहे मोहम्मद जैनुल और सैऩउऩनिशां की बेटी है।

जैनुल ने शनिवार को बताया कि फलक की हालत के लिये जिम्मेदार उनका दामाद शाह हुसैन है। वह मुन्नी को देह व्यापार के दलदल में धकेलने की बात करता था। उन्होंने कहा कि बच्ची के साथ हुई दर्दनाक घटना के लिये हुसैन जिम्मेदार है। 2005 में हुसैन ने मुन्नी के साथ विवाह किया था।

रेलवे की नौकरी से सेवानिवृत्त हुए जैनुल ने बताया कि मुझे फलक के भाई के जीवन की भी चिंता है। हम फलक को देखना चाहते हैं और मुन्नी से मिलना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि बेटी के बारे में उन्हें कोई जानकारी प्राप्त नहीं हुई है और पुलिस ने उनसे अब तक कोई सम्पर्क नहीं किया है।

दिल्ली पुलिस फलक के मामले को मानव तस्करी और देह व्यापार के बड़े रैकेट से जोड़ कर देख रही है, जिसके तार अन्य राज्यों से भी जुड़े हैं । दिल्ली पुलिस ने मुजफ्फरपुर के मिठनपुरा थाना क्षेत्र से फलक की बहन को बरामद किया है, जबकि उसके  भाई का कुछ पता नहीं है।

epaper