DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजकीय सम्मान के साथ होगा आर.के. लक्ष्मण का अंतिम संस्कार

राजकीय सम्मान के साथ होगा आर.के. लक्ष्मण का अंतिम संस्कार

प्रसिद्ध कार्टूनिस्ट आर.के. लक्ष्मण का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ होगी। महाराष्ट्र सरकार ने ‘द कॉमन मैन’ के रचनाकार के सम्मान में यह निर्णय लिया। एक अधिकारी ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी।

लक्ष्मण का 94 वर्ष की उम्र में सोमवार शाम एक निजी अस्पताल में निधन हो गया था। उनका अंतिम संस्कार मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे बैकुंठ श्मशान घाट में होगा।

विभिन्न दलों के नेताओं, मीडिया जगत की हस्तियों, उद्योगपतियों, फिल्म जगत की हस्तियों तथा अन्य लोगों ने सोशल नेटवर्किंग साइट के जरिये उनके निधन पर शोक जताया है।

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कहा कि लक्ष्मण के निधन की सूचना पाकर उन्हें गहरा दुख हुआ।

राष्ट्रपति ने सोमवार को अपने शोक संदेश में कहा, ‘‘मैं व्यक्तिगत तौर पर क्षति महसूस कर रहा हूं, क्योंकि उनका प्रशंसक होने के साथ-साथ मैं उनके कार्टूनों का विषय भी रहा हूं। उन्होंने हास्य का इस्तेमाल करते हुए महत्वपूर्ण सामाजिक संदेश दिया और लोगों को इस बात की याद दिलाई कि प्रशासन में बैठे लोग भी इंसान हैं तथा उनसे भी गलतियां हो सकती हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘पद्म विभूषण से सम्मानित लक्ष्मण के निधन से रचनात्मकता और सामाजिक टिप्पणी के जगत में जो रिक्तता आ गई है, उसकी भरपाई मुश्किल है।’’

वहीं, महाराष्ट्र के राज्यपाल सी.वी. राव ने लक्ष्मण को एक बेहतरीन कार्टूनिस्ट, व्यंग्यकार तथा राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय महत्व के विषयों पर सर्वाधिक प्रभावी टिप्पणीकार करार दिया, जो लंबे समय तक मीडिया में छाए रहे।

उन्होंने कहा, ‘‘लक्ष्मण आम लोगों की खुशी और दुख को समझते थे। उन्होंने अपने कार्टून के जरिये करोड़ों भारतीयों के नजरिये को सामने रखा।’’ मुख्यमंत्री देवेंद्र फडम्णवीस, लक्ष्मण को श्रद्धांजलि देने पुणे पहुंचेंगे, जहां उनका पार्थिव शरीर लोगों के अंतिम दर्शन के लिए एक निजी कॉलेज में रखा गया है।

शिव सेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के नेता राज ठाकरे तथा अन्य लोगों के भी पुणे पहुंचकर लक्ष्मण को श्रद्धांजलि देने और उनके अंतिम संस्कार में भाग लेने की उम्मीद है।

अंग्रेजी के प्रख्यात उपन्यासकार आर.के. नारायणन के भाई लक्ष्मण के घर में पत्नी कमला, सेवानिवृत्त पत्रकार बेटा श्रीनिवास तथा पुत्रवधु उषा हैं।

लक्ष्मण के बेटे श्रीनिवास ने बताया कि उन्हें मूत्रनली में संक्रमण और फेफड़ों की समस्या के कारण 16 जनवरी को पास के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन उनके स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं होने पर उन्हें दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल में भर्ती कराया गया। लक्ष्मण के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था।

लक्ष्मण का प्रसिद्ध कार्टून किरदार ‘द कॉमन मैन’ कई दशकों तक अंग्रेजी समाचार-पत्र ‘द टाइम्स ऑफ इंडिया’ के ‘यू सेड इट’ कॉलम में प्रकाशित होता रहा।

लक्ष्मण का जन्म 24 अक्टूबर, 1921 को कर्नाटक के मैसूर में हुआ था। उनका पूरा नाम रासिपुरम कृष्णास्वामी अय्यर लक्ष्मण था। बचपन से ही उनका रुझान स्केचिंग की ओर था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लक्ष्मण का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ