DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजस्थान होगा दूसरी बार सूरजकुंड मेले का थीम स्टेट

विश्व विख्यात सूरजकुंड हस्तशिल्प मेला राजस्थानी रंग में रंगा नजर आएगा। राजस्थान को थीम स्टेट बनने का गौरव इस बार मिल सकता है। आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल और मध्य प्रदेश के बाद यह ऐसा राज्य होगा, जिसको दोबारा इस मेले की शान बनने का मौका मिलेगा। हरियाणा पर्यटन निगम और राजस्थान पर्यटन निगम के बीच बातचीत के बाद 29 अक्तूबर को भारत सरकार के पर्यटन सचिव इसको लेकर दिल्ली में बैठक करेंगे।

लगातार चार सालों से सूरजकुंड हस्तशिल्प मेले में उन राज्यों को ही मौका दिया जा रहा है, जो पहले भी मेले की मेजबानी में हरियाणा पर्यटन निगम का साथ दे चुके हैं। निगम की प्रमुख सचिव एवं वित्तायुक्त केशनी आनंद अरोड़ा ने बताया कि राजस्थान पर्यटन विभाग की ओर से थीम स्टेट बनने के लिए मौखिक आवेदन आ चुका है। इसको थीम स्टेट बनाने को लेकर भारत पर्यटन मंत्रालय का रुख भी सकारात्मक है। निर्णय लेने के लिए भारतीय पर्यटन मंत्रालय के सचिव के साथ 29 अक्तूबर को बैठक होगी।

राजस्थान से ही इस मेले में 1989 से थीम स्टेट बनाने की शुरुआत हुई थी। थीम स्टेट बनने के ग्यारह साल बाद लोगों को फिर से मेले में राजस्थानी संस्कृति से रूबरू होने का अवसर मिलेगा और दाल-बाटी व चूरमा जैसे लजीज व्यंजनों का स्वाद चखने को मिलेगा।

ये राज्य रहे अब तक के थीम स्टेट--

वर्ष      थीम स्टेट
1987   -----
1988   -----
1989   राजस्थान
1990   पश्चिम बंगाल
1991   केरल
1992   मध्य प्रदेश
1993   उड़ीसा
1994   कर्नाटक
1995   पंजाब
1996   हिमाचल प्रदेश
1997   गुजरात
1998   नॉर्थ ईस्टर्न स्टेट
1999   आंध्र प्रदेश
2000   जम्मू-कश्मीर
2001   गोवा
2002   सिक्किम   
2003   उत्तरांचल
2004   तमिलनाडु
2005   छत्तीसगढ़
2006   महाराष्ट्र
2007   आंध्र प्रदेश
2008   पश्चिम बंगाल
2009   मध्य प्रदेश

थीम स्टेट बनाने के लिए नहीं गए निमंत्रण
सूरजकुंड हस्तशिल्प मेले में थीम स्टेट बनाने के लिए हरियाणा पर्यटन निगम विधानसभा चुनाव के चलते राज्यों को निमंत्रण नहीं भेज पाया। हर साल अक्तूबर में मेले की थीम स्टेटे बनने के लिए सभी राज्यों को निमंत्रण भेज दिए जाते थे। इस बार अब तक हरियाणा पर्यटन निगम ने इसको लेकर कोई कदम नहीं उठाया। सिर्फ राज्यों से मौखिक बातचीत करके थीम स्टेट बनाने की प्रक्रिया को अंजाम दिया जा रहा है। अब तक जिन राज्यों के पर्यटन विभागों से बात की गई है, उनमें राजस्थान ही हरियाणा पर्यटन निगम के साथ मिलकर मेले का खर्च उठाने को तैयार है।

यूपी और बिहार इस बार भी दरकिनार
उत्तरप्रदेश और बिहार दोनों ऐसे राज्य हैं, जो सूरजकुंड मेले की थीम स्टेट नहीं बन सके हैं। भारत के अन्य राज्यों को इस मेले में अपनी संस्कृति दिखाने का मौका मिल चुका है। इस बार भी इन दोनों राज्यों को यह मौका नहीं मिलने वाला है।
हरियाणा पर्यटन निगम अधिकारियों की मानें, तो दोनों राज्यों की सरकार मेले में खर्च करने से कतराती है। इसलिए ये थीम स्टेट बनने से महरूम रह जाते हैं।

 

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राजस्थान होगा दूसरी बार सूरजकुंड मेले का थीम स्टेट