DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली: बिना ड्राइवर के चलेगी ये मेट्रो ट्रेन, जानिए इसकी खूबियां

दिल्ली: बिना ड्राइवर के चलेगी ये मेट्रो ट्रेन, जानिए इसकी खूबियां

दिल्ली मेट्रो को गुरुवार को पहली चालक रहित रेलगाड़ी मिली। इस रेलगाड़ी का निर्माण दक्षिण कोरिया के चांगवान में हुआ है। एक बयान के मुताबिक, यह रेलगाड़ी यहां के मुकुंदपुर डिपो पहुंची है और दिल्ली मेट्रो के संचालन नियंत्रण केंद्र से इस रेलगाड़ी का बिना किसी परिचालक के परिचालन होगा।

दक्षिण कोरिया से यह रेलगाड़ी समुद्र मार्ग से गुजरात के मुंधरा बंदरगाह पहुंची थी, जहां से इसे सड़क मार्ग से दिल्ली लाया गया।

दिल्ली मेट्रो ने एक बयान में कहा, "यह रेलगाड़ी तीसरे चरण के मजलिश पार्क से शिव विहार (58.59 किलोमीटर लंबी लाइन-7) और जनकपुरी पश्चिम से बोटेनिकल गार्डन (38.25 किलोमीटर लंबी लाइन-8) मार्ग पर दौड़ेगी।"

दोनों ही मार्गो का परिचालन 2016 के अंततक शुरू होने की संभावना है।

इस तरह की कुल 20 रेलगाड़ियों का निर्माण दक्षिण कोरिया में इस साल के अंततक पूरा हो जाएगा। वहीं 61 अन्य रेलगाड़ियों का निर्माण बेंगलुरू के भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (बीईएमएल) में होगा। इन सभी रेलगाड़ियों में छह डिब्बे होंगे।

प्रत्येक रेलगाड़ी में 2,280 यात्री यात्रा कर सकेंगे। मौजूदा मेट्रो से 240 अधिक यात्री इनमें यात्रा कर सकेंगे, क्योंकि इनमें चालक के लिए अलग से कक्ष की जरूरत नहीं होगी।

सुरक्षा बढ़ाने के मद्देनजर रेलगाड़ी के अंदर और बाहर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे और इनकी तस्वीरों पर सीधे नियंत्रण केंद्र से नजर रखी जाएगी।

दिल्ली मेट्रो की इन नयी ट्रेनों में महत्वपूर्ण प्रौद्योगिकी और पर्यावरण अनुकूल उन्नयन को शामिल किया गया है। यात्रियों की सुविधाएं बढाने के लिए कई अतिरिक्त विशेषताओं को भी शामिल किया गया है।

दिल्ली मेट्रो ने बताया कि उन्हें 95 किमी प्रति घंटे की गति से परिचालित करने के लिए डिजाइन किया गया है। इसकी परिचालन गति 85 किमी प्रति घंटे होगी।

डीएमआरसी के एक अधिकारी ने बताया कि शुरू में इन ट्रेनों के परिचालन के लिए चालकों को तैनात किया जायेगा। उन्हें चरणबद्ध तरीके से हटाया जायेगा और बिना चालक के ट्रेन परिचालन होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Delhi Metro Gets Its First Driverless Train