DA Image
6 जून, 2020|4:34|IST

अगली स्टोरी

फर्जी मालिक बनाकर बेच दी किसी और की जमीन

राजधानी में जमीनों की धोखाधड़ी लगातार बढ़ रही है। वहीं एसआईटी लगातार ऐसे भूमाफियाओं के खिलाफ कार्रवाई कर रही है। ऐसे ही एक मामले में कुछ भूमाफियाओं ने फर्जी मालिक बनाकर किसी और की जमीन बेच दी। शिकायत के बाद एसआईटी ने जांच की तो हकीकत सामने आई है। एसआईटी प्रभारी डीआईजी पुष्पक ज्योति ने रविवार को इस मामले में मुकदमा दर्ज करने के आदेश प्रेमनगर पुलिस को दिए।

एसआईटी से मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली निवासी हर्ष विज की सुद्धोवाला में जमीन है। कुछ समय पूर्व वे जमीन देखने आए तो पता चला कि उनकी जमीन किसी और के पास है। उन्होंने इसकी शिकायत एसआईटी से की। जांच के बाद एसआईटी ने पाया कि जमीन हर्ष विज और उनकी माता रामदुलारी के नाम से बेच दी गई है। और जांच की गई तो पता चला कि ये जमीन मुकेश सिंघानिया निवासी साईं लोक जीएमएस रोड, बिन्नी खोसला इंजीनियर्स इंक्लेव फेस वन और बलजिंदर सियाल निवासी झाझरा ने फर्जी दस्तावेज बनाकर बेची। उन्होंने किसी और को फर्जी तरीके से हर्ष विज और राम दुलारी बनाकर 13 लाख रुपये में जमीन बेची थी। जांच में उनके दोषी पाए जाने पर डीआईजी पुष्पक ज्योति ने पांचों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए। इनमें से बलविंदर सियाल जेल में है और पिछले एक माह में उसके खिलाफ जमीनी धोखाधड़ी का ये चौथा मामला है।