DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्मिथ के शतक से संभला ऑस्ट्रेलिया

स्मिथ के शतक से संभला ऑस्ट्रेलिया

धाकड़ ऑलराउंडर स्टीवन स्मिथ (नाबाद 135) के शानदार शतक के दम पर ऑस्ट्रेलिया को खराब शुरुआत से उबारते हुए वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट के पहले दिन गुरुवार को चार विकेट खोकर 258 रन बना लिये।
    
स्मिथ ने अपने ही बेहतरीन अंदाज में 278 गेंदों में 16 चौके और दो छक्के उड़ाते हुए अपने करियर का नौवां शतक ठोका और वह 135 रन बनाकर क्रीज पर डटे हुए हैं।
    
किंग्सटन के सबिना पार्क मैदान पर खेले जा रहे इस मुकाबले में मेजबान वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और ऑस्ट्रेलिया के ओपनर डेविड वॉर्नर को पहले ही ओवर में शून्य के स्कोर पर लुढका दिया। जेरोम टेलर ने पहले ओवर की तीसरी गेंद पर वॉर्नर को शाई होप के हाथों कैच कराकर पवेलियन की राह दिखा दी। इसके बाद टेलर ने शॉन मार्श को अपना दूसरा शिकार बनाया और उन्हें 11 के निजी स्कोर पर पगबाधा आउट कर दिया।
    
दो विकेट पांच ओवर के भीतर गिरने के बाद कंगारू टीम थोड़े दबाव में आ गयी लेकिन हेमस्ट्रिंग चोट से उबरकर अपनी टीम की कमान संभालने वाले माइकल क्लार्क ने स्मिथ  के साथ मिलकर पारी को संभाला और स्कोर 134 पर पहुंचाया। क्लार्क अपने अर्धशतक से मात्र तीन रन से चूक गये और 47 रन बनाकर जैसन होल्डर का शिकार बने। क्लार्क ने चार चौके और दो छक्के उड़ाये।
    
क्लार्क के आउट होने के बाद उतरे एडम वोग्स ने 37 रन का योगदान दिया और स्मिथ के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिये 76 रन की साझेदारी निभायी। वोग्स को भी टेलर ने विकेटकीपर दिनेश रामदीन के हाथों लपकाकर चलता किया। चायकाल तक ऑस्ट्रेलिया ने 58 ओवर में तीन विकेट खोकर 158 रन बना लिये थे।
    
वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज टेलर ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 15 ओवर में मात्र 18 रन देकर तीन विकेट झटक लिये हैं जबकि होल्डर ने 16 ओवर में 47 रन देकर एक विकेट अपने नाम किया। केमार रोच पहले दिन 15 ओवर में 65 रन देकर कोई विकेट लेने में सफल नहीं हो सके।
    
पहले दिन का खेल खत्म होने तक स्टार ऑलराउंडर शेन वॉटसन 20 और स्मिथ 135 रन बनाकर क्रीज पर टिके हुए हैं और टीम का स्कोर चार विकेट पर 258 रन है। दोनों देशों के बीच खेले जा रही दो टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला ऑस्ट्रेलिया ने जीत लिया था।
     
26 वर्षीय स्मिथ ने कहा कि पहले यह आसान नहीं लग रहा था। गेंद स्विंग कर रही थी और थोड़ी तेज भी थी। लेकिन जैसे-जैसे दिन बीता लक्ष्य आसान होता गया। उन्होंने कहा कि उनकी सफलता का कोई राज़्‍ा नहीं है, वह जग मैदान पर खेलने उतरते हैं तो काफी मेहनत और धैर्य से खेलने की कोशिश करते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्मिथ के शतक से संभला ऑस्ट्रेलिया