DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टेस्ट में ध्यान स्ट्राइक रेट नहीं, सकारात्मक रवैये पर: पुजारा

टेस्ट में ध्यान स्ट्राइक रेट नहीं, सकारात्मक रवैये पर: पुजारा

पर्याप्त गति से रन नहीं बनाने के कारण आलोचना को दरकिनार करते हुए भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने कहा कि टेस्ट क्रिकेट में स्ट्राइक रेट नहीं बल्कि सकारात्मक रवैया मायने रखता है।

पुजारा ने न्यूजीलैंड के खिलाफ यहां तीसरे और अंतिम टेस्ट के पहले दिन आज 41 रन की पारी खेली लेकिन कप्तान विराट कोहली नाबाद शतक और अजिंक्य रहाणे नाबाद 79 रन बनाकर भारत के हीरो रहे। पुजारा ने पहले दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा कि संदेश यह दिया गया था कि इरादे के साथ खेलो। जब टेस्ट की बात आती है तो स्ट्राइक रेट पर अधिक ध्यान देने की जरूरत नहीं होती लेकिन सकारात्मक रवैये पर ध्यान देने की जरूरत होती है। इस तरह के विकेटों पर आप लगातार रन बनाते हुए 70 या 80 से अधिक का स्ट्राइक रेट नहीं रख सकते। आपको स्थिति के अनुसार बल्लेबाजी करनी होगी। आपको पता होना चाहिए कि टीम की क्या जरूरत है।

कप्तान कोहली और रहाणे की बल्लेबाजी की तारीफ करते हुए पुजारा ने कहा कि यह साझेदारी अहम है। भारत के पहले दिन तीन विकेट पर 267 रन बनाने के बाद पुजारा ने कहा कि विराट और अजिंक्य ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की। विराट ने काफी अच्छी पारी खेली और सीरीज में पहला शतक (दोनों टीमों की ओर से) बनाया और अजिंक्य ने भी अच्छी बल्लेबाजी की। उनकी साझेदारी (चौथे विकेट के लिए नाबाद 167 रन) अहम है और अगर कल यह साझेदारी जारी रहती है तो हमारे लिए अच्छा होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:indian batsman cheteshwar pujara test cricket new zealand