DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्यापार संतुलन सुधरने से शेयर बाजार में तेजी बरकरार

व्यापार संतुलन सुधरने से शेयर बाजार में तेजी बरकरार

यूनान ऋण संकट का समाधान नहीं निकलने से निराश निवेशकों की भारी बिकवाली के कारण विदेशी बाजारों के साथ आज बीच सत्र तक गिरावट पर रहा घरेलू शेयर बाजार बाद में व्यापार संतुलन के सकारात्मक आंकड़ों के सहारे छलांग लगाकर चालू सप्ताह में लगातार दूसरे दिन तेजी के साथ बंद हुआ।

देश के सबसे बड़े निजी बैंक आईसीआईसीआई बैंक सहित कई अन्य विदेशी निवेश समर्थित कंपनियों में विदेशी निवेशकों की भारी बिकवाली के साथ ही कमजोर मानसून और महंगाई बढ़ने के जोखिम के मद्देनजर रिजर्व बैंक के इस साल ब्याज दरों में और कटौती नहीं करने की आशंका में निवेशकों की निवेशधारणा गिरने से बीच सत्र तक शेयर बाजार दबाव में रहा और बीएसई का सेंसेक्स 26379.93 और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 7952.35 अंक तक लुढ़क गया।

हालांकि, जारी व्यापार घाटा आंकड़ों के मजबूत रहने से समर्थन पाकर बीच सत्र के बाद बाजार ने छलांग लगाई, जिससे सेंसेक्स 99.96 अंक अर्थात 0.38 फीसदी की बढ़त के साथ 26686.51 अंक पर और निफ्टी 33.40 अंक यानि 0.42 फीसदी बढ़कर 8000 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से ऊपर 8047.30 अंक पर बंद होने में सफल रहा।

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, इस वर्ष मई में देश का व्यापार घाटा फरवरी के बाद के निचले स्तर 10.41 अरब डॉलर पर आ गया है। फरवरी में यह 6.85 अरब डॉलर और अप्रैल में 10.99 अरब डॉलर रहा था। पिछले तीन महीने में पहली बार व्यापार घाटे में कमी आई है। इससे चालू खाता घाटा को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। इससे निवेशकों का उत्साह काफी बढ़ा और बाजार में मजबूती दर्ज की गई।

बीएसई के समूहों में एफएमसीजी की 0.07 प्रतिशत और तेल एवं गैस की 0.15 प्रतिशत की गिरावट को छोड़कर शेष 11 समूहों में बढ़त देखी गई। इस दौरान हेल्थकेयर, आईटी, ऑटो, बैंकिंग, कैपिटल गुड्स, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स, धातु, पावर, रियल्टी, टेक और पीएसयू समूह के शेयरों में 1.18 प्रतिशत तक बढ़ोतरी दर्ज की गई। बीएसई में कुल 2754 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें से 1275 फायदे में और 1351 नुकसान में रहे, जबकि 128 में कोई बदलाव नहीं हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:व्यापार संतुलन सुधरने से शेयर बाजार में तेजी बरकरार