DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरबीआई ने दरों में कटौती के द्वार बंद नहीं किए: राजन

आरबीआई ने दरों में कटौती के द्वार बंद नहीं किए: राजन

रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने कहा है कि केंद्रीय बैंक ने नीतिगत दर में कटौती के लिए अपने दरवाजे बंद नहीं किए हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि रिजर्व बैंक मानसून और वाह्य परिवेश से बनने वाली स्थिति को देखते हुये इस बारे में आगे कोई विचार बनाएगा।

रिजर्व बैंक प्रमुख ने कहा कि कई तरह के जोखिमों के बावजूद उन्होंने इसी सप्ताह नीतिगत दरों में चौथाई फीसदी कटौती की है। भविष्य में नीतिगत कार्रवाई घरेलू व वैश्विक कारकों पर निर्भर करेगी। राजन ने कहा कि वृद्धि कमजोर है। लेकिन हमारे पास मुद्रास्फीति की भी वजह है जिसका हमें सम्मान करना है। मुद्रास्फीति को देखते हुए हम वृद्धि के लिए जितना कर सकते हैं, कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि आर्थिक संभावनाओं के रास्ते में तीन अनिश्चितताएं है, इनमें मानसून, तेल मूल्य व वाह्य वातावरण शामिल है। उन्होंने कहा कि तेल कीमतें एक बड़ा कारण हैं। यदि तेल कीमतों में गिरावट आती है, जैसा कि लगता है क्योंकि बाजार में अतिरिक्त आपूर्ति की स्थिति है, तो इससे हमें नीतिगत मोर्चे पर अधिक गुंजाइश मिलेगी। कुछ यही बात बाहरी वातावरण के साथ है।

अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में कटौती के बारे में पूछे जाने पर राजन ने कहा कि जहां तक अमेरिका का सवाल है, पहली तिमाही बहुत अच्छी नहीं रही है। फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में कटौती के बाद इसका हम पर भी उतना ही असर होगा जितना अन्य बाजारों पर पड़ेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आरबीआई ने दरों में कटौती के द्वार बंद नहीं किए: राजन