DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्राथमिक उपचार की ट्रेनिंग में आज बनेगा विश्व रिकॉर्ड

दुर्घटना के दौरान प्राथमिक उपचार नहीं मिल पाने से काल के गाल में समा जा रहे लोगों को जीवन दान देने की एक महत्वपूर्ण पहल की शुरुआत पांच मार्च को होगी। इसका गवाह रविवार को बिहार और सीवान बनेगा। बिहार इसलिए क्योंकि यहीं पर इस योजना की शुरुआत पांच मार्च को होगी और सीवान इसलिए कि शहर का राजेन्द्र स्टेडियम इस स्वर्णिम कार्य का गवाह बनेगा। फिर तो तीन हजार लोगों को एक साथ प्राथमिक उपचार की ट्रेनिंग देने का विश्व रिकॉर्ड बनाने वाला बिहार इसकी सूचना केन्द्र सरकार व गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड को देगा।

बहरहाल राजेन्द्र स्टेडियम में तीन हजार लोगों को एक साथ ट्रेनिंग देने की तैयारी पूरी कर ली गई है। हालांकि इससे पहले शारजाह में भी इसी प्रकार की प्राथमिक उपचार की ट्रेनिंग एक साथ सतरह सौ लोगों को दी गई थी। इधर ट्रेनिंग का आयोजन आपदा प्रबंधन विभाग व एम्स पटना की ओर से संयुक्त रूप से किया जा रहा है। इस बीच ट्रेनिंग में एक हजार आशा कार्यकर्ता, नौ सौ ग्रामीण इलाके के डॉक्टर, तीन सौ स्कूली बच्चे, दो सौ एनसीसी कैडेट्स, एक सौ पुलिस कर्मी, बीस सीओ व एक सौ राजस्व कर्मी हिस्सा लेंगे।

इधर शनिवार को कार्यक्रम स्थल राजेन्द्र स्टेडियम का निरीक्षण डीडीसी राज कुमार, सदर एसडीओ भूपेन्द्र कुमार यादव, डीएसपी अरविंद कुमार गुप्ता, अपर समाहर्ता, जिला आपदा प्रभारी, एनडीसी व टाउन थाना इंस्पेक्टर प्रिय रंजन ने किया।

कार्यक्रम को ले कोर कमेटी के सदस्य उत्साहित
प्राथमिक उपचार की ट्रेनिंग देने के मामले में रविवार को विश्व रिकॉड बनाने की ओर अग्रसर बिहार के स्थानीय स्तर पर होने वाले कार्यक्र को लेकर कोर कमेटी के सदस्य बढ़-चढ़ कर अपनी भूमिका निभा रहे हैं। गौर करने वाली बात है कि कोर कमेटी छतीसा एम्स पटना के पांच सदस्यों के रूप में शामिल डॉ. केडी रंजन, डॉ. रामेश्वर सिंह, डॉ. सतीश कुमार, अरविंद पांडेय व अर्जुन साह कार्यक्रम के आयोजक होने के साथ ही टेली मेडिसन के विशेषज्ञ भी हैं।

तैनात रहेंगे दो सौ स्काउट गाइड के वोलेंटियर
राजेन्द्र स्टेडियम में आपदा की ट्रेनिंग देने के लिए हो रहे कार्यक्रम को देखते हुए एकता इंडोर स्टेडियम में बीस स्टॉल लगाए गए हैं। वहीं भारत स्काउट गाइड के 204 वालेंटियर भी इस दौरान तैनात रहेंगे। साथ ही एक-एक ब्लॉक को अलग-अलग बांट दिया गया है। इधर पटना एम्स के डॉक्टर व कर्मी मिलाकर कुल एक सौ लोग इस विशेष प्रशिक्षण शिविर में शामिल होंगे।

ट्रेनिंग में क्या-क्या सिखाएंगे गुर
राजेन्द्र स्टेडियम में रविवार को प्राथमिक उपचार की ट्रेनिंग लेने वाले तीन हजार लोगों को मुख्य रूप से इस बात की जानकारी दी जायेगी कि वे आपदा से कैसे निपटें। साथ ही दुर्घटना होने के बाद क्या करें, प्राथमिक उपचार में गंभीर मरीजों के प्रति क्या सावधानी बरतें, घायल को अस्पताल कैसे भेजें, हार्ट अटैक होने पर क्या करें व बाढ़ या भूकंप आने पर लोगों का बचाव इससे कैसे करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:today will be a world record in first aid training