DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीतीश खड़ा कर रहे वादों का पहाड़: मोदी

नीतीश खड़ा कर रहे वादों का पहाड़: मोदी

पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि जब 'टाटा-बाय-बाय' का समय आया तो नीतीश कुमार वादों का पहाड़ खड़ा कर बिहार की जनता को झांसा देने का प्रयास कर रहे हैं। उनको मालूम होना चाहिए कि चुनाव के अंतिम समय में किए गए उनके वादों पर कोई विश्वास नहीं करेगा। जो वादे वे कर रहे हैं, 10 वर्षों तक मुख्यमंत्री रहते उसे पूरा क्यों नहीं किया? कहा कि नीतीश कुमार बताएं कि मिशन मानव विकास, कौशल विकास मिशन और कृषि रोड मैप क्यों फेल हो गया? घोषित इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक, आईटीआई, मेडिकल कॉलेज तो खुल नहीं पाये जो खुले भी उनमें शिक्षकों की नियुक्ति तक क्यों नहीं हुई? 2013-14 में राज्य के पॉलिटेक्निक कॉलेजों में छात्रों का नामांकन क्यों नहीं हुआ? इंजीनियरिंग व मेडिकल कॉलेजों में सीटें खाली क्यों रह गईं?

घोषणा के बावजूद किसानों को ब्याज अनुदान नहीं देने वाली सरकार छात्रों को कर्ज के ब्याज पर अनुदान दे पाएगी? शिक्षकों के लाखों पद रिक्त रहने के बावजूद पिछले तीन साल में भी नियुक्ति करने में विफल सरकार क्या युवकों को  झांसा नहीं दे रही है? 500 करोड़ के वेंचर कैपिटल फंड का वादा करने वाले नीतीश कुमार बताएं कि चार साल पहले घोषित 200 करोड़ के वेंचर कैपिटल फंड का क्या हुआ? राज्य के बाहर पढ़ने वाले पिछड़ा व अतिपिछड़ा छात्रों को मिलने वाली पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति पर रोक लगी? दरअसल प्रधानमंत्री ने बिहार के विकास के लिए 1.65 लाख करोड़ का पैकेज देकर इतनी बड़ी लकीर खींच दी है कि नीतीश कुमार नर्वस हो गए हैं। वे चाहे कितने भी विजन डॉक्यूमेंट बना लें, बिहार की जनता भ्रमित होने वाली नहीं है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नीतीश खड़ा कर रहे वादों का पहाड़: मोदी