DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्या बीजेपी से नाराज हैं शत्रुघ्न सिन्हा? लालू से की मुलाकात

क्या बीजेपी से नाराज हैं शत्रुघ्न सिन्हा? लालू से की मुलाकात

पटना साहिब के भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा गुरुवार की शाम लालू प्रसाद को उनके 68वें जन्मदिन की बधाई देने उनके आवास पर पहुंचे। करीब बीस मिनट तक वे वहां रहे। निकलने पर शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि बिहार में नीतीश कुमार और लालू प्रसाद साथ आए हैं, यह अच्छी बात है। नई परंपरा की शुरुआत है।

हिन्दुस्तान से बातचीत में भाजपा सांसद ने अपनी पार्टी के नेताओं द्वारा पूरी ऊर्जा जदयू-राजद के गठबंधन पर बोलने में लगाने को लेकर दुख जताया। कहा कि इसकी बजाय हमें अपनी खामियों को दूर करना चाहिए। कमजोरियों को ताकत बनाना चाहिए। कहा कि वे तो सिर्फ कद लेकर घूम रहे हैं, पार्टी ने किसी पद के लायक नहीं समझा। उन्हें नानाजी देशमुख, अटल बिहारी बाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी का स्नेह-आशीष मिला है और तब से भाजपा में है। उन्होंने कभी सिल्वर या गोल्डन जुबली नहीं मनाया, लेकिन कुछ लोग पार्टी में 25 साल पूरा होने पर वर्षगांठ मना रहे हैं। चाहूंगा हर हाल में पार्टी अच्छा करे। उन्होंने कहा कि पार्टी में सबकुछ पारदर्शी होना चाहिए। कुछ लोगों की वजह से जटिलता बढ़ाना पार्टी के लिए अच्छा नहीं होगा।

भाजपा के सीएम प्रत्याशी के बाबत शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि बड़ी देर कर दी मेहरवां आते-आते। लोग कहते हैं कि अब एनाउंस करना भी ठीक नहीं होगा। न एनाउंस करें तो शायद वह भी ठीक नहीं। मेरी तो सीएम बनने की न इच्छा है न पार्टी से अपेक्षा है। लेकिन एनडीए में कई ऐसे लोग हैं जो मुख्यमंत्री पद के उपयुक्त हैं। इनमें चन्द्रमोहन राय हैं, गिरिराज सिंह कितने दबंग और काबिल हैं। रामविलास पासवान, उपेन्द्र कुशवाहा, शाहनबाज हुसैन, अश्विनी कुमार चौबे हैं। कहा-‘तुम्हारी है, तुम्ही संभालो ये दुनिया, मेरे सामने से हटा लो ये दुनिया, ये दुनिया अगर मिल भी जाये तो क्या है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:क्या बीजेपी से नाराज हैं शत्रुघ्न सिन्हा? लालू से की मुलाकात