DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास लज्जाजनक फिर भी कर रहे गुणगान: मांझी

विकास लज्जाजनक फिर भी कर रहे गुणगान: मांझी

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा ‘हम’ के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने कहा कि आजादी के 67 साल बाद भी बिहार में विकास की जो स्थिति है वह लज्जा करने वाली हैं। लेकिन कुछ लोग विकास के गुणगान करते अब भी नहीं थकते। मांझी आरएसके स्कूल मैदान में आयोजित गरीब स्वाभिमान सम्मलेन में बोल रहे थे। सम्मेलन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के वर्तमान रिश्ते को कैश करने की पूरी कोशिश की गई।

मांझी ने लालू के मुख्यमंत्रित्व कार्यकाल में अपराध और अराजकता को तो स्मरण कराया ही लालू के खिलाफ नीतीश कुमार के उन बयानों को भी लोगों के बीच रखा जिसे भंजा कर नीतीश कुमार ने लोगों से वोट मागें थे। नेताओं ने राजद, जदयू व कांग्रेस के गठबंधन को गद्दार, धोखेबाज व लुटेरों का गठबंधन बताया। पूर्व मुख्यमंत्री मांझी ने कहा कि बिहार में गरीबी देखनी है तो सुदूर गांवों की ओर चलिये। आपको गरीबों के घर ऐसे मिलेंगे जिनकी छत पर ऐसा कुछ भी नहीं है जो सूर्य की किरणों को रोक सके, बरिश की बूंदों को थाम सके। पीने का पानी तक लोगों को नहीं मिल रहा है जैसे तैसे लोग प्यास बुझा रहे हैं। गरीब पेंशन, लालकार्ड, छात्रवृत्ति के लिए जाते हैं तो उन्हें प्रताड़ना मिलती है। यह सरकार गरीबों की नहीं ठेकेदारों की है, जिसे यस मैन अधिकारी चला रहे हैं।
 
पूर्व मुख्यमंत्री ने नीतीश कुमार और उनके बीच पड़ी दरार के कारणों की भी चर्चा की और कहा कि उनके अनुसार जबतक वह सबकी बात मानते रहे सब कुछ ठीक रहा। लेकिन जब भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने की कोशिश की तो ठेकेदारों ने आंखे तरेर दी और मुझे हटा दिया गया। पूर्व मुख्यमंत्री ने सीधे तौर पर भाजपा के पक्ष में कोई बात तो नहीं कही, लेकिन केन्द्र सरकार की कार्यकलाप की खूब प्रशंसा की। मौके पर हम के प्रदेश अध्यक्ष शकुनी चौधरी पूर्व मंत्री नरेन्द्र सिंह, वृषण पटेल, पूर्व विधायक गणेश पासवान आदि ने भी नीतीश कुमार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली। सम्मेलन की अध्यक्षता जिला संयोजक सुबोध वर्मा कर रहे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विकास लज्जाजनक फिर भी कर रहे गुणगान: मांझी