DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जहां-जहां बिहारी, वहां जाएगी सरकार

जहां-जहां बिहारी, वहां जाएगी सरकार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नीति निर्माण में जनभागीदारी सुनिश्चित करने के लिए मंगलवार को जिस ‘बढ़ चला बिहार, बिहार @2025’ अभियान का शुभारंभ किया, उसमें उद्घोष, संवाद, गौरव गोष्ठी और बिहार लेक्चर सीरीज के साथ कई नई बातें शामिल की गई हैं। अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय, राज्यस्तरीय, जिला व गांव स्तर पर आधारित कार्यक्रम तैयार किए गए हैं। बिहार में गरीबी का अंत कैसे हो और निवेश कैसे बढ़े इस पर भी खास जोर होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक प्रेजेंटेशन के माध्यम से इन कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी।

जनभागीदारी : इस कार्यक्रम के केंद्र में गांवों को रखा गया है। इसके तहत 40 हजार गांवों में पहुंचने का लक्ष्य है। बढ़ चला बिहार कार्यक्रम का यह 60 प्रतिशत हिस्सा है। जनभागीदारी कार्यक्रम में 4 करोड़ लोग शामिल होंगे। जीपीएस से लैस चार सौ ट्रकों के बने मोबाइल जनभागीदारी मंच गांव में पहुंचेंगे। इस अभियान का संचालन जनभागीदारी संपर्ककर्ता करेंगे। लोगों से वे विकास के बारे में बात करेंगे। ऑडियो-विडियो क्लिपिंग्स के जरिए बात होगी। इसके बाद एक खुला सत्र होगा और फिर लोगों से विकास पत्र भरवाया जाएगा कि वे क्या चाहते हैं।

उद्घोष : इसके माध्यम से विशेष समूह राज्य के नेतृत्व से अपने हितों के बारे में सीधे बात करेंगे। इसमें पंचायती राज संस्थानों के प्रतिनिधि, संविदा पर काम कर रहे चिकित्सक, आंगनबाड़ी सेविकाएं, किसान और स्वयं सहायता समूह के लोगों को जोड़ा जाना है।

गौरव गोष्ठी : बिहार के वैभवशाली अतीत पर केंद्रित गौरव गोष्ठी एक तय तिथि को एक साथ सभी 38 जिलों में होगी। इस कार्यक्रम में बिहार के विकास यात्रा पर भी चर्चा होगी। जिलाधिकारी द्वारा स्थानीय नागरिकों को इस आयोजन में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया जाएगा। इस मौके पर उन लोगों को सम्मानित भी किया जाएगा जिन्होंने बिहार के गौरव को बढ़ाया है।

संवाद : इस कार्यक्रम के माध्यम से मुख्यमंत्री बिहार के बाहर रह रहे बिहार वंशियों से बेहतर बिहार के बारे में विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात करेंगे। उनसे उनकी अपेक्षाओं के बारे में पूछा जाएगा।

बिहार डेवलपमेंट डायलॉग : इस कार्यक्रम के तहत चार आयोजन होंगे। इनमें दो दिल्ली में, एक पटना और एक मुंबई में होगा। इसमें एनजीओ, विद्यार्थी, कारोबारी, सिविल सोसायटी के प्रतिनिधि, सरकारी सेवक, मीडिया से जुड़े लोग और विषय विशेषज्ञ शामिल होंगे।

बिहार लेक्चर सीरीज : इस आयोजन में विद्यार्थियों, शोधार्थियों, शिक्षाविद व विशेषज्ञों को शामिल किया जाएगा। व्याख्यान पटना, नालंदा व गया में होगा। बिहार के विकास को केंद्र में रख व्याख्यान होगा।

ब्रेकफास्ट विद सीएम : आठ से दस हफ्ते चलने वाला ‘बढ़ चला बिहार’ कार्यक्रम के दौरान चार बार मुख्यमंत्री मीडिया के साथ चर्चा करेंगे।

लीडर्स मेमोआयर्स : इस कार्यक्रम के माध्यम से मुख्यमंत्री विकास व सामाजिक क्षेत्र से जुड़े मुद्दों पर लोगों के साथ बात करेंगे।

सोशल मीडिया पर आया अभियान
बढ़ चला बिहार अभियान सोशल मीडिया के माध्यम से भी उपलब्ध हो गया है। इसके तहत फेसबुक पर डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.एफबी.काम/बिहार 2025, ट्विटर पर डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू. ट्विटर.काम/बिहार 2025, यूट्यूब पर डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू. बीआईटी.डीओ/बिहार 2025 लोग अपनी बातें शेयर कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जहां-जहां बिहारी, वहां जाएगी सरकार