DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार को बिजली मुफ्त में नहीं मिल रही: नीतीश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा कि भाजपा नेताओं द्वारा बार-बार बिहार के लिए सेंट्रल पूल से बिजली दिए जाने की बात की जाती है, पर सेंट्रल पूल से बिहार को मिल रही बिजली बिहार पर कोई अहसान नहीं है। यह बिजली मुफ्त में नहीं मिल रही है। अगर भाजपा को बिहार में बिजली के क्षेत्र में कुछ योगदान करना है, तो वह बिहार को सेंट्रल पूल से मुफ्त में बिजली दिलवाए। हम उन्हें धन्यवाद देंगे और आंशिक रूप से भाजपा को भी कुछ श्रेय जाएगा।

श्री कुमार जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बिहार के एक-एक आदमी को यह दिखाई पड़ रहा है कि यहां बिजली की स्थिति में सुधार हुआ है। घबराहट में भाजपा के लोग बिजली को लेकर झूठ बोल रहे हैं। अब तो बिहार में बिजली को लेकर उपलब्धि यह है कि हम एक समान बिजली आपूर्ति की बात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सेंट्रल पूल से 2700 मेगावाट बिजली का वादा है, पर 2000 मेगावाट ही मिल पाती है। कभी-कभी तो सेंट्रल पूल से मिलने वाली बिजली निजी क्षेत्र की बिजली से भी महंगी होती है। अगर सेंट्रल पूल की बिजली देंगे नहीं तो क्या उसका अचार बनाकर खाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि क्रेडिट तो बिहार में ट्रांसमिशन और डिस्ट्रीब्यूशन ठीक किए जाने के प्रयासों को जाना चाहिए। केंद्र सरकार ने बीआरजीएफ के आवंटन को शून्य कर दिया है, जबकि नीति आयोग ने यह सिफारिश की है कि बिहार को पूर्व से तय बीआरजीएफ की राशि दे दी जाए। उस पैसे का 95 प्रतिशत बिजली में लगाया जाना है।

भाजपा के लोग रेल राज्य मंत्री को सीमित सामाजिक परिवेश में घूमा रहे
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि भाजपा के लोग रेल राज्य मंत्री को सीमित सामाजिक परिवेश में घूमा रहे हैं। उन्हें इस तरह के कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए बुला लिया जाता है। मेरा उनसे पुराना ताल्लुक है। वह अच्छे आदमी हैं, पर भाजपा के लोग उन्हें रेल मंत्री नहीं रहने दे रहे। पाटलिपुत्र स्टेशन की बात हो रही है तो उन्हें मालूम होना चाहिए कि उस स्टेशन का नामकरण तो मैेंने ही रेल मंत्री के रूप में किया था। दीघा-सोनपुर रेल पुल की मंजूरी किसने दिलाई?

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार को बिजली मुफ्त में नहीं मिल रही: नीतीश