DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश भर में मैगी पर प्रतिबंध जारी, बिहार ने भी लगाया एक महीने का प्रतिबंध

देश भर में मैगी पर प्रतिबंध जारी, बिहार ने भी लगाया एक महीने का प्रतिबंध

बिहार में भी मैगी पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। मैगी की न तो बिक्री होगी न ही इसका प्रचार-प्रसार किया जा सकता है। यदि ऐसा कोई करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। मैगी के सैंपल जांच के लिए कोलकाता भेजे गए हैं। जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई होगी। फिलहाल प्रतिबंध एक महीने के लिए लगाया गया है।

राज्य के फूड सेफ्टी कमिश्नर आनंद किशोर ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से नेस्ले के मैगी में शीशा (लीड) और मोनो सोडियम ग्लूटामेट (अजीनोमोटो) की मात्रा ज्यादा होने की बात सामने आई है। निर्धारित मात्रा से इसका ज्यादा होना स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है। मैगी का प्रचार-प्रसार भी पूरी तरह प्रतिबंधित होगा। रेस्टोरेंट, दुकान और मॉल में इसे नहीं रखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि दुकानदार चाहे तो अपने पास मौजूद मैगी को स्टॉकिस्ट के पास गोदाम में जमा करा सकते हैं। प्रतिबंध का उल्लंघन करने पर जुर्माना और सजा दोनों हो सकती है। उन्होंने कहा कि बिहार में मैगी का निर्माण नहीं होता यह दूसरे राज्यों से आता है।

बिहार सरकार को नहीं मिली है रिपोर्ट : बिहार सरकार को मैगी के सैंपल की जांच रिपोर्ट अभी नहीं मिली है। सरकार ने 23 मई से 2 जून के बीच 27 सैंपल जांच के लिए कोलकाता स्थित सरकारी लैब भेजा है। फूड सेफ्टी कमिश्नर ने बताया कि रिपोर्ट आने में कम से कम 14 दिन लगते हैं। तीन दिनों में राज्य के सभी जिलों से मैगी के सैंपल जमा करने के आदेश दिए गए हैं। मैगी के साथ ही बाजार में उपलब्ध अन्य नूडल्स के भी सैंपल जांच के लिए लैब भेजे जाएंगे। रिपोर्ट मिलने के बाद सरकार यह फैसला लेगी की आगे क्या करना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:देश भर में मैगी पर प्रतिबंध जारी, बिहार ने भी लगाया एक महीने का प्रतिबंध