DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोपालगंज में सड़क जाम हटाने गई पुलिस पर पथराव,4 घायल

जिले के बैकुंठपुर थाने के महम्मदपुर-लखनपुर मुख्य पथ पर गुरुवार को सड़क जाम हटाने गई पुलिस पर गुस्साये लोगों ने पथराव कर दिया। पथराव में चार पुलिसकर्मी घायल हो गये। इन्हें इलाज के लिए बैकुंठपुर पीएचसी में भर्ती कराया गया है। घायल पुलिसकर्मियों में सब इंस्पेक्टर अशोक साह, एएसआई सुरेश ठाकुर, अभय कुमार सिंह व एक सिपाही शामिल हैं। मारपीट व आगजनी के मामले में कार्रवाई नहीं होने से खैरा आजम पंचायत के ग्रामीण गुस्साये थे।

इन्होंने गुरुवार की सुबह स्थानीय पुलिस प्रशासन के खिलाफ विरोध जताते हुए मृत नवजात शिशु का शव सड़क पर रखकर मुख्य पथ को जाम कर दिया। ग्रामीण सड़क जाम कर प्रदर्शन करने लगे। ग्रामीणों का आरोप था कि पुलिस प्रशासन नकारा हो गया है। गरीबों पर अत्याचार हो रहा है और पुलिस कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। तीन दिन पहले जमीन विवाद में हुई मारपीट के मामले में आवेदन देने के बावजूद पुलिस ने एफआईआर दर्ज नहीं की और नहीं कोई कार्रवाई ही की।

ग्रामीणों का कहना था कि 3 दिन पहले कुछ दबंगों ने गांव के लालू राय व रामजीत राय के घर में आगजनी की और परिजनों से मारपीट की। इसी घटना में उसी परिवार की एक गर्भवती महिला से भी मारपीट की गई। इससे वह जख्मी हो गई। इलाज के लिए उसे पीएचसी में भर्ती कराया गया। उस महिला का प्रसव बुधवार की रात में हुआ, लेकिन बच्चा मृत पैदा हुआ।

ग्रामीणों का कहना था कि मारपीट में जख्मी होने की वजह से ही बच्चा मरा है। इन्हीं बातों को लेकर ग्रामीणों ने नवजात के शव को सड़क पर रखकर जाम कर दिया। आक्रोशित ग्रामीण मौके पर एसपी को बुलाने की मांग पर अड़े थे। इसी जाम को हटवाने के लिए जब स्थानीय थाने की पुलिस वहां पहुंची तो पहले उससे लोगों से बकझक हुई। कुछ देर बाद तनाव बढ़ा और लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। खबर लिखे जाने तक वहां जाम लगा था और आसपास के चार थानों की पुलिस वहां कैंप किए हुए थी। इस मामले में मुख्यालय डीएसपी नरेश चंद्र मिश्र ने बताया कि घटना की जानकारी मिली है। वरीय अफसर वहां भेजे गए हैं। मामले की जांच कराकर उचित कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गोपालगंज में सड़क जाम हटाने गई पुलिस पर पथराव,4 घायल