DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

50 हजार का स्मार्टफोन 10 हजार में बेचते दो धंधेबाज गिरफ्तार

50 हजार के कीमती मोबाइल को 10 हजार रुपए में बेचने वाले दो शातिर धंधेबाजों को बेउर पुलिस ने बुधवार की रात बस स्टैंड से गिरफ्तार किया है। पकडे़ गए विकास उर्फ बबलू (हरिशचंद्रनगर) व मुंगेरी लाल (सिपारा) के पास से पुलिस ने नामचीन कंपनी के 36 कीमती मोबाइल फोन जब्त किए हैं। उनके पास मोबाइल के कोई कागजात नहीं मिले हैं। सभी जब्त मोबाइल फोन की बाजार में कीमत 10-12 लाख रुपए बतायी जा रही है।
 
आरोपितों ने बताया कि वे कोलकाता से सस्ते दामों में मोबाइल खरीद कर लाते थे। कोलकाता के खिदिरपुर डॉकयार्ड से एक व्यक्ति उन्हें ये महंगे मोबाइल उपलब्ध कराता था। वह कम पैसे में सभी कंपनियों का महंगा मोबाइल बेचता था। डीएसपी इम्तेयाज अहमद ने बताया कि ओएलक्स पर मोबाइल की तस्वीर व अपना नंबर डालकर ग्राहकों को फंसाते थे। उसके बाद ग्राहकों को महंगा मोबाइल सस्ते में बेच देते थे। 

नालंदा की एक दुकान का लगाते थे मुहर
ग्राहकों को मोबाइल के फर्जी कागजात दिए जाते थे। उस पर मुहर नालंदा जिले की एक दुकान की होती थी। मुंगेरी अपने किराना दुकान से मोबाइल बेचने का धंधा चला रहा था जबकि विकास हरिशचंद्र नगर में रौशनी काम्युनिकेशन की दुकान से धंधा कर रहा था। 

वेबसाइट पर डाला गलत नाम
बेउर थानाध्यक्ष रंजीत कुमार ने बताया कि मीठापुर बस स्टैंड से दोनों को सौदा करते पकड़ा गया। दोनों ने ओएलएक्स  की वेबसाइट पर अपना नाम चंदन डाला था जबकि मोबाइल नंबर सही डाला था। उस नंबर पर कॉल करनेवाले ग्राहकों को मोबाइल दिखाने के लिए स्टैंड के पास बुलाया जाता था। मोबाइल पसंद नहीं आने पर वह ग्राहकों को अपनी दुकान पर मोबाइल दिखाने ले जाता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:50 हजार का स्मार्टफोन 10 हजार में बेचते दो धंधेबाज गिरफ्तार